BREAKING NEWS

सिर्फ शादी के लिए धर्मांतरण गलत, इलाहाबाद HC ने ‘जोधा-अकबर’ का उदाहरण देते हुए रद्द की जमानत याचिका◾PM मोदी ने पूरी ओलंपिक टीम को बतौर 'स्पेशल गेस्ट' स्वतंत्रता दिवस समारोह पर किया आमंत्रित ◾कोरोना से जंग के बीच टीकाकरण अभियान जारी, राज्यों के पास 2.75 करोड़ खुराक उपलब्ध : केंद्र◾शिवराज का ऐलान- MP में जहरीली शराब बेचने वालों को होगा आजीवन कारावास या मौत की सजा◾दिल्ली सरकार ने विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी को दी मंजूरी, अब 54 की जगह 90 हजार होगी सैलरी◾दिवंगत बाला साहेब ठाकरे से काफी प्रभावित है राहुल, वे जल्द महाराष्ट्र दौरे पर आएंगे: संजय राउत◾गरीबों का सशक्तीकरण है सर्वोच्च प्राथमिकता, लाखों परिवारों को फ्री राशन दे रही सरकार : PM मोदी◾CBSE 10th रिजल्ट : त्रिवेंद्रम क्षेत्र ने 99.99 फीसदी के साथ मारी बाजी, TOP-10 में सबसे नीचे दिल्ली◾संसद में पेगासस और कई मुद्दों को लेकर विपक्ष का हंगमा, राज्यसभा की बैठक स्थगित◾पेगासस पर नीतीश के बाद अब मांझी के भी विरोधी सुर- देश को पता चले कि कौन करवा रहा है जासूसी ◾जम्मू-कश्मीर : कठुआ में रणजीत सागर बांध के पास क्रैश हुआ भारतीय सेना का हेलीकॉप्टर◾CBSE बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी, स्टूडेंट्स ऐसे कर सकेंगे चेक◾विपक्ष पर बरसे PM- संसद बाधित करना लोकतंत्र और संविधान का अपमान, माफी नहीं मांगना दर्शाता है अहंकार◾नीतीश की पेगासस मामले में जांच की मांग पर शिवसेना ने जताया आभार, राउत बोले-PM को अब सुन लेना चाहिए◾त्रिपुरा में उग्रवादियों का BSF पर हमला, सब इंस्पेक्टर सहित दो जवान शहीद◾भारत में कोरोना के मामलों में मिली बड़ी राहत, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 30,549 नए केस की हुई पुष्टि ◾राहुल की अगुवाई में संसद तक विपक्ष का साइकिल मार्च, ब्रेकफास्ट मीटिंग से दूर रहीं 'आप' और BSP◾अगस्त-सितंबर में हो सकती है सामान्य से अधिक बारिश, जानें कहां कैसा रहेगा मौसम◾ Tokyo Olympics : हॉकी में हार के बाद रेसलिंग में भी निराशा, भारतीय पहलवान सोनम पहले दौर में ही हारी◾World Corona Update : विश्व में संक्रमितों की संख्या 19.88 करोड़ के पार, 42.3 लाख लोगों ने गंवाई जान ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भुखमरी की कगार पर पहुंचा उत्तर कोरिया, तानाशाह किम जोंग ने बेफिक्री से बढ़ाई कड़ी पाबंदियां

एक तरफ जहां पूरी दुनिया कोविड के कहर से जूझ रही है वहीं उत्तर कोरिया महामारी के साथ - साथ भुखमरी की मार भी झेल रहा है। जानकारी के मुताबिक़ तानाशाह किम जोंग के शासन में उत्तर कोरिया की जनता के पास खाने पीने के सामान की भारी किल्लत है और एक बड़ा संकट देश के ऊपर मंडरा रहा है। इस कठिन समय में किम जनता को राहत देने में अब तक तो नाकामयाब ही दिखाई दिए है।  

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने देश में खाद्य संकट की आशंका को लेकर आगाह किया और लोगों से कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए लगायी पाबंदियों का समर्थन करने का आह्वान किया। किम ने चरमराती अर्थव्यवस्था को बचाने की राष्ट्रीय कोशिशों पर चर्चा के लिए एक प्रमुख राजनीतिक सम्मेलन में यह बात कही। 

उत्तर कोरिया की आधिकारिक ‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’ ने बुधवार को कहा कि किम ने इस पर चर्चा का आह्वान किया कि उत्तर कोरिया को ‘‘मौजूदा अंतरराष्ट्रीय हालात’’ से कैसे निपटना चाहिए। हालांकि उसने किम द्वारा अमेरिका या दक्षिण कोरिया के बारे में की गई किसी भी टिप्पणी का जिक्र नहीं किया। 

कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर सीमाएं बंद होने के कारण चीन से व्यापार रुकने और पिछली गर्मियों में बार बार तूफान तथा बाढ़ आने के कारण फसलें बर्बाद होने से उत्तर कोरिया की पहले से अस्थिर अर्थव्यवस्था और अधिक चरमा गयी है। 

उत्तर कोरिया में हालात का आकलन करने वाले पर्यवेक्षकों ने अभी भुखमरी के संकेत नहीं दिए हैं लेकिन कुछ विश्लेषकों का कहना है कि परिस्थितियां इस ओर बढ़ सकती हैं। दक्षिण कोरिया के एक सरकारी थिंक टैंक कोरियन डवलपमेंट इंस्टीट्यूट ने पिछले महीने कहा था कि उत्तर कोरिया को इस साल करीब दस लाख टन अनाज की कमी का सामना करना पड़ सकता है। 

सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की केंद्रीय समिति की पूर्ण बैठक के दौरान मंगलवार को किम ने अधिकारियों से कृषि उत्पादन बढ़ाने के तरीके ढूंढने का अनुरोध करते हुए कहा कि देश में खाद्य पदार्थ की स्थिति ‘‘तनावपूर्ण हो रही है।’’ केसीएनए ने कहा कि किम ने देश को कोरोना वायरस मुक्त बनाने का आह्वान करते हुए यह संकेत दिए कि अर्थव्यवस्था पर दबाव के बावजूद महामारी को रोकने के लिए लॉकडाउन बढ़ाया जाएगा। विशेषज्ञों को उत्तर कोरिया के इस दावे पर गहरा संदेह है कि देश में कोविड-19 का एक भी मामला नहीं आया।