BREAKING NEWS

अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका - यह राजनीति है ◾सेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए नए नाम सुझाए, राकांपा ने उद्धव पर दिया जोर◾ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾केजरीवाल के दबाव में केंद्र ने अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों को दिया मालिकाना हक : आप◾मोदी की जीत आशाओं तथा अपेक्षाओं की जीत : रविशंकर प्रसाद ◾विकास के कार्य पूरे करने को झारखंड में भाजपा को दें पूर्ण बहुमत : शाह◾राज्यसभा में विपक्षी दलों ने ट्रांसजेन्डर विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग की◾शिवसेना सदस्य ने की बिरसा मुंडा, वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग◾TOP 20 NEWS 21 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : कांग्रेस और NCP के बीच बातचीत पूरी, कल नई सरकार की रुपरेखा पर होगा अंतिम निर्णय◾महाराष्ट्र : कांग्रेस के साथ संयुक्त बैठक से पहले NCP नेताओं की बैठक ◾अमित शाह ने झारखंड में चुनावी रैली को किया संबोधित, राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना◾

विदेश

इमरान के वादे को PAK सेना ने नकारा, कहा-करतारपुर आने वाले भारतीय सिख श्रद्धालुओं को साथ लाना होगा पासपोर्ट

 kartaar

पाकिस्तानी सेना ने कहा है कि करतापुर गलियारे के रास्ते करतारपुर साहिब आने वाले भारतीय सिख श्रद्धालुओं को अपने साथ पासपोर्ट लाना होगा। गुरुवार को मीडिया में आई एक खबर में यह कहा गया है। इससे कुछ ही दिन पहले प्रधानमंत्री इमरान खान ने घोषणा की थी कि भारतीय श्रद्धालुओं को पवित्र गुरुद्वारा दरबार साहिब आने के लिए महज एक वैध पहचान-पत्र की जरूरत होगी। 

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर की इस टिप्पणी से एक दिन पहले ही भारत ने पाकिस्तान से यह स्पष्ट करने को कहा था कि करतारपुर स्थित गलियारा जाने के लिए सिख श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की जरूरत होगी या नहीं। प्रधानमंत्री इमरान खान, भारतीय सिख श्रद्धालुओं को गुरुद्वारा दरबार साहिब तक बिना वीजा पहुंच देने वाले करतारपुर गलियारे का उद्घाटन शनिवार को करेंगे। 

यह गलियारा सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में इस हफ्ते खोला जा रहा है। डॉन न्यूज ने ‘हम’ समाचार चैनल के हवाले से बताया कि मेजर जनरल गफूर ने बुधवार को कहा कि भारतीय सिख श्रद्धालुओं को करतारपुर गलियारे का प्रयोग करने के लिए पासपोर्ट दिखाना जरूरी होगा। 

गफूर ने कहा, “सुरक्षा कारणों से, प्रवेश पासपोर्ट आधारित पहचान पर मिली अनुमति के तहत कानूनी तरीके से दिया जाएगा। सुरक्षा एवं संप्रभुता से किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा।” बुधवार को, भारत ने पाकिस्तान से यह साफ करने को कहा था कि करतारपुर साहिब जाने के लिए पासपोर्ट की जरूरत होगी या नहीं। 

मायावती ने कहा- ‘अयोध्या’ पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान किया जाना चाहिए

एक नवंबर को, प्रधानमंत्री खान ने करतापुर गलियारे का निर्माण पूरा होने की ट्विटर पर घोषणा करते हुए कहा था कि उन्होंने दो शर्तों को माफ कर दिया है। इनमें से एक पासपोर्ट से जुड़ी शर्त थी जबकि दूसरी शर्त भारत से करतारपुर तीर्थयात्रा पर आने वाले सिखों द्वारा 10 दिन पहले पंजीकरण कराने से जुड़ी थी। 

उन्होंने कहा था कि भारत के सिख श्रद्धालुओं को करतारपुर आने के लिए पासपोर्ट की नहीं बल्कि एक वैध पहचान-पत्र की जरूरत होगी। इसके अलावा उद्घाटन समारोह के लिए आने वाले और 12 नवंबर को सिख गुरु की 550वीं जयंती के मौके पर आने वाले श्रद्धालुओं से 20 डॉलर का सेवा शुल्क भी नहीं वसूला जाएगा। 

करतारपुर गलियारा भारत के पंजाब स्थित डेरा बाबा नानक को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के नारोवाल जिले में स्थित करतारपुर के दरबार साहिब से जोड़ेगा। यह गुरुद्वारा अंतरराष्ट्रीय सीमा से महज चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।