BREAKING NEWS

चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾भूमिपूजन पर बोले ओवैसी-यह लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन◾अयोध्या में सुनहरा अध्याय रच रहा है भारत, राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा राम मंदिर : PM मोदी ◾भूमि पूजन के बाद बोले मोहन भागवत-आज देश में सदियों की आस पूरी होने का आनंद◾राम मंदिर भूमि पूजन के बाद राहुल का तंज- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते राम◾500 साल का लंबा इंतजार खत्म, भूमि पूजन के साथ साकार हुआ भव्य राम मंदिर का सपना◾सुशांत सुसाइड केस : केंद्र ने CBI जांच संबंधी सिफारिश की स्वीकार, SC ने कहा- मामले का सच सामने आना चाहिए◾राम मंदिर भूमि पूजन : अयोध्या में PM मोदी ने रामलला के किए दर्शन, कार्यक्रम की हुई शुरुआत ◾अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का एक वर्ष पूरा, लाल चौक पर BJP कार्यकर्ता रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 85 लाख के पार, 7 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में कोरोना संक्रमण के 52 हजार 509 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 19 लाख के पार◾LAC विवाद : भारत के शीर्ष सैन्य और रणनीतिक पदाधिकारियों ने पूर्वी लद्दाख में की हालात की समीक्षा◾राम मंदिर भूमि पूजन : PM मोदी के आगमन के लिए फूलों से सजकर तैयार है हनुमान गढ़ी मंदिर ◾ राम मंदिर भूमि पूजन से एक दिन पहले मिट्टी के दीपों ने नगरी के संध्याकाल को बनाया 'दिव्य' ◾सालों का इंतजार हुआ खत्म, PM मोदी आज अयोध्या में करेंगे राम मंदिर का भूमि पूजन, जानिए PM मोदी का पूरा कार्यक्रम◾लेबनान की राजधानी बेरूत में भयानक विस्फोट, 10 लोगों की मौत, कई लोग घायल ◾पाक के नए नक्शे को कांग्रेस ने बताया काल्पनिक, कहा- इससे तथ्य बदलने वाले नहीं ◾अयोध्या समारोह पर बोले BJP नेता लालकृष्ण आडवाणी- मंदिर ‘वास्तविक’ और ‘छद्म’ धर्मनिरपेक्षता के संघर्ष का प्रतीक◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पाकिस्तान ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को दिया दूसरा कॉन्सुलर ऐक्सेस

पाकिस्तान ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के लिए भारत को दूसरे कॉन्सुलर एक्सेस देने की मांग को मान लिया है। कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए दो अधिकारियों को अनुमति दी गई है। भारत ने पाकिस्तान से बिना किसी शर्त के कॉन्सुलर एक्सेस की मांग की थी।

भारत ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में रिव्यू पीटिशन दायर करने से पहले भारत ने पाकिस्तान से यह मांग की थी। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने दावा किया था कि 17 जून, 2020 को कुलभूषण जाधव को उनकी सजा और सजा पर पुनर्विचार के लिए एक याचिका दायर करने के लिए आमंत्रित किया गया था। 

कोरोना वायरस का असर : अमेरिकन एयरलाइंस के 25000 कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी

लेकिन कुलभूषण ने अपने कानूनी अधिकार का प्रयोग करते हुए सजा और सजा पर पुनर्विचार याचिका दायर करने से इनकार कर दिया। इसके बाद भारत ने पिछले गुरुवार को कहा कि कुलभूषण से संबंधित मामले में सभी कानूनी विकल्पों का आकलन कर रहा है। पाकिस्तान की अदालत ने जाधव को मौत की सजा सुनाई है। 

गौरतलब है कि कुलभूषण  को कथित तौर पर 3 मार्च, 2016 को पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया गया था, क्योंकि उन्होंने कथित तौर पर ईरान से पाकिस्तान में प्रवेश किया था, जैसा कि पाकिस्तान द्वारा दावा किया गया जाता है। जाधव की जासूसी और अन्य गतिविधियों में शामिल होने के पाकिस्तान के आरोपों को भारत ने खारिज कर दिया।