BREAKING NEWS

चीन और पाकिस्तान से बिजली उपकरणों का आयात नहीं करेगा भारत ◾PM मोदी के लेह दौरे पर सियासत शुरू, मनीष तिवारी बोले- जब इंदिरा गई थीं तो पाक के दो टुकड़े किए थे◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 8 लाख के पार, सवा पांच लाख के करीब लोगों की मौत◾कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि, कहा-व्यर्थ नहीं जाएगा यह बलिदान ◾चीन के साथ तनाव के बीच PM मोदी का औचक लेह दौरा, अग्रिम पोस्ट पर जवानों से की मुलाकात◾देश में एक दिन में 20 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा सवा छह लाख के पार◾15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन COVAXIN, 7 जुलाई से शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल◾जम्मू-कश्मीर : श्रीनगर में मुठभेड़ में CRPF का एक जवान शहीद, एक आतंकवादी भी ढेर◾कानपुर में अपराधियों को पकड़ने गई पुलिस पर हमला, मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मी शहीद◾मुंबई : बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन◾Covid 19 : अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 27 लाख के पार, सवा एक लाख से अधिक लोगों की मौत ◾महाराष्ट्र में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, एक दिन में 6,330 नए मामलों के साथ राज्य में मौत का आंकड़ा 8,178◾गूगल प्ले स्टोर, एपल ऐप स्टोर से हटी भारत सरकार द्वारा बैन चीन की 59 ऐप, कंपनियों ने रोया दुखड़ा ◾दिल्ली में कोरोना के 2,373 नए मरीज आये सामने , कुल मामले बढ़कर 92,000 के पार ◾अप्रैल 2023 से शुरू होगा निजी ट्रेनों का परिचालन, जानिये सफर में क्या होंगे खास और आधुनिक बदलाव◾कांग्रेस को चुनौती देते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया का पलटवार, कहा - टाइगर अभी जिंदा है ◾म्यांमार में बड़ा हादसा, हरे पत्थर की खदान में भूस्खलन से करीब 123 लोगों की मौत ◾चीन के साथ तनाव के बीच, लद्दाख में भारत ने स्पेशल फोर्स के जवानों को तैनात किया◾बिहार में आकाशीय बिजली ने आज फिर बरपाया कहर, चपेट में आने से 20 लोगों की हुई मौत◾चीन के साथ तनाव के बीच मोदी सरकार ने Mig-29 और सुखोई विमानों की खरीद को दी मंजूरी◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पाकिस्तान को हाफिज सईद समेत लश्कर के आतंकियों पर अभियोग चलाना चाहिए : अमेरिका

अमेरिका ने कहा है कि पाकिस्तान को उसकी जमीन से आतंकवादी कृत्यों को अंजाम दे रहे आतंकवादी समूहों को रोकना चाहिए और लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद समेत इस संगठन के अन्य आतंकवादियों के खिलाफ अभियोग चलाना चाहिए। 

अमेरिका ने पाकिस्तान को काली सूची में डालने या नहीं डालने को लेकर वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (फायनेन्शियल एक्शन टास्क फोर्स) के अहम फैसले से पहले यह बयान दिया है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय की दक्षिण एवं मध्य एशियाई ब्यूरो प्रमुख एलिस वेल्स ने पाकिस्तान में लश्कर-ए-तैयबा/जमात-उद-दावा के चार आतंकवादियों की गिरफ्तारी का स्वागत भी किया। 

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने बृहस्पतिवार को आतंकवाद के वित्तपोषण के आरोपों में प्रतिबंधित लश्कर ए तैयबा/जमात उद दावा के शीर्ष चार सदस्यों को गिरफ्तार किया था। लश्कर ए तैयबा/जमात उद दावा के बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किये गये शीर्ष चार आतंकवादियों के नाम प्रोफेसर जफर इकबाल, याहिया अजीज, मोहम्मद अशरफ तथा अब्दुल सलाम हैं। 

वेल्स ने ट्वीट किया, "जैसा कि (पाकिस्तान के प्रधानमंत्री) इमरान खान ने कहा है, पाकिस्तान को अपने भविष्य के लिए आतंकवादियों को अपनी जमीन से काम करने से रोकना होगा।" उन्होंने कहा, "हम इस समाचार का स्वागत करते हैं कि पाकिस्तान ने लश्कर के चार आतंकवादियों को गिरफ्तार किया। लश्कर के क्रूर हमलों के पीड़ित इस बात के हकदार है कि वे लश्कर के सरगना हाफिज सईद समेत इन लोगों के खिलाफ अभियोग चलता देखें।" 

पाक प्रतिनिधिमंडल 2 दिवसीय FATF बैठक के लिए पेरिस पहुंचा

पाकिस्तान का उसकी जमीन से गतिविधियों को अंजाम देने वाले आतंकवादियों को पकड़ने और रिहा कर देने का इतिहास रहा है। वेल्स का यह बयान ऐसे समय में आया है जब एफएटीएफ को देश के ‘ग्रे सूची’ के दर्जे पर अपना निर्णय देना है। एफएटीएफ ने पिछले साल जून में पाकिस्तान को ‘ग्रे’ सूची में डाल दिया था। पाकिस्तान को अक्टूबर 2019 तक पूरी करने के लिए एक कार्ययोजना दी गई थी। इसे पूरा नहीं कर पाने पर पाकिस्तान पर ईरान और उत्तर कोरिया के साथ काली सूची में डाले जाने का खतरा है।

पाकिस्तान के प्रदर्शन की 12 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक चलने वाली समीक्षा यह तय करेगी कि इस्लामाबाद ग्रे सूची में रहता है या उसे काली सूची में डाल दिया जाता है या क्लीन चिट दे दी जाती है। वेल्स ने पिछले महीने भी पाकिस्तान से कहा था कि वह सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों के खिलाफ अभियोग चलाए। 

उन्होंने कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम होना इस बात पर निर्भर करेगा कि इस्लामाबाद ‘‘सीमा पार घुसपैठ’’ में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर कितना गंभीर है। जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा निरस्त करने के भारत सरकार के अगस्त के फैसले के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है। भारत के इस फैसले का पाकिस्तान ने कड़ा विरोध किया है। उसने भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कमतर कर दिया है और भारतीय राजदूत को निष्कासित कर दिया है। 

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने के बाद से कश्मीर मामले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर रहा है लेकिन नयी दिल्ली ने जोर देकर कहा है कि अनुच्छेद 370 उसका आंतरिक मामला है। 

अमेरिकी वित्त मंत्रालय ने सईद को वैश्विक आतंकवादी नामित किया है और उसकी सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर की इनामी राशि देने की घोषणा की है। ऐसा माना जाता है कि सईद के नेतृत्व वाला जमात-उद-दावा लश्कर का वह मुख्य संगठन था जिसने 2008 के मुंबई हमलों को अंजाम दिया था। इस हमले में 166 लोगों की मौत हो गई थी।