BREAKING NEWS

PM मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से फोन पर की 30 मिनट बातचीत, बिना नाम लिए PAK को बनाया निशाना ◾TOP 20 NEWS 19 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾आरक्षण विरोधी मानसिकता त्यागे संघ : मायावती◾कश्मीर पर भारत की नीति से घबराया पाकिस्तान, अगले तीन साल पाकिस्तानी सेना प्रमुख बने रहेंगे बाजवा◾चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- सब सामान्य तो महबूबा मुफ्ती की बेटी नजरबंद क्यों◾कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बताया दलित-पिछड़ा विरोधी◾गृहमंत्री अमित शाह से मिले अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा◾RSS अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर है : मायावती ◾गहलोत बोले- कांग्रेस ने देश में लोकतंत्र को मजबूत रखा जिसकी वजह से ही मोदी आज PM है ◾बैंकों के लिए कर्ज एवं जमा की ब्याज दरों को रेपो दर से जोड़ने का सही समय: शक्तिकांत दास◾राजीव गांधी की 75वीं जयंती: देश भर में कार्यक्रम आयोजित करेगी कांग्रेस◾दलितों-पिछड़ों को मिला आरक्षण खत्म करना BJP का असली एजेंडा : कांग्रेस ◾उन्नाव कांड: SC ने CBI को जांच पूरी करने के लिए 2 हफ्ते का समय और दिया, वकील को 5 लाख देने का आदेश◾अयोध्या भूमि विवाद मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट में नहीं हुई सुनवाई ◾जम्मू-कश्मीर में पटरी पर लौटती जिंदगी, 14 दिन बाद खुले स्कूल-दफ्तर◾बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन◾सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की पत्रकार तरुण तेजपाल की रेप आरोप रद्द करने की अपील◾उत्तरकाशी में बादल फटने से 17 की मौत, हिमाचल प्रदेश में बचाए गए 150 पर्यटक◾योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार टला, ये है वजह◾प्रियंका बोली- मंदी पर सरकार की चुप्पी खतरनाक, इसका जिम्मेदार कौन है?◾

विदेश

370 हटाए जाने के बाद बोखलाए पाकिस्तानियों ने मूर्ति पर उतारा गुस्सा

लाहौर : 370 हटाए जाने के बाद अभी तक तो पकिस्तान सरकार तिलमिलाई हुई थी लेकिन अब इसका असर वहां के लोगों पर भी देखने को मिल रहा है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शनिवार देर रात लाहौर फोर्ट में महाराजा रणजीत सिंह की लगी प्रतिमा तोड़ दी। 

महाराजा रणजीत सिंह की 9 फुट ऊंची प्रतिमा का इसी साल जून में लाहौर फोर्ट में अनावरण किया गया था।  पाकिस्तान की पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ ईशनिंदा के कानूनों के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। जिन लोगों ने महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा को तोड़ा, वह लोग जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से नाराज थे। 

महाराजा रणजीत सिंह एक सिख राजा थे, जिन्होंने 19वीं सदी में उत्तर पश्चिमी भारतीय उपमहाद्वीप पर राज किया। बताया जा रहा है कि आरोपियों का सम्बन्ध मौलाना खैरम रिजवी की तहरीक-लब्बैक पाकिस्तान से है। लाहौर फोर्ट की देखभाल करने वाली लाहौर अथॉरिटी ने इस घटना को लेकर हैरानी जताते हुए कहा कि ईद के बाद प्रतिमा की मरम्मत करवा ली जाएगी। 

लाहौर अथॉरिटी की प्रवक्ता तानिया कुरैशी ने कहा, 'यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, हम लाहौर फोर्ट की सुरक्षा में और इजाफा करेंगे ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हों। प्रतिमा की मरम्म्त का कार्य अगले हफ्ते से शुरू करवा दी जाएगी तथा इसके पुरे होते ही यह जनता के लिए दुबारा खोल दिया जायेगा।  

आपको बता दें कि यह प्रतिमा 9 फुट की है और कांसे की बनी हुई है।  महाराजा  लाहौर फोर्ट में लगी प्रतिमा को बनाने में 8 महीने लगे थे। इसमें महाराजा रणजीत सिंह अपने पसंदीदा घोड़े पर हाथ में तलवार लिए बैठे हैं, उन्हें यह घोड़ा बाराजकाई वंश के दोस्त मुहम्मद खान ने बतौर तोहफे में दिया था।