BREAKING NEWS

INX मीडिया : चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत, CJI के समक्ष जाएगा मामला ◾राहुल का केंद्र पर वार, कहा-चिदंबरम के चरित्रहनन के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही मोदी सरकार◾चिदंबरम के बचाव में प्रियंका, बोली-केंद्र की असफलताओं को उजागर करने की भुगत रहे है सजा◾उत्तर प्रदेश : योगी कैबिनेट का हुआ विस्तार, 23 मंत्रियो ने ली शपथ ◾कश्मीर मामले पर ट्रंप ने फिर की मध्यस्थता की पेशकश, कहा- PM मोदी से करूंगा बात◾INX मीडिया : चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने जारी किया लुकआउट नोटिस ◾मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के निधन पर PM मोदी ने किया शोक व्यक्त ◾भारतीय सेना ने लिया अभिनंदन का बदला, गिरफ्तार करने वाले पाक कमांडो को किया ढेर◾चिदंबरम के लिए कयामत की रात, जेल या बेल पर फैसला सुबह ◾पंजाब, हरियाणा में बनी हुई है बाढ़ की स्थिति◾अयोध्या मामला : हिंदू निकाय ने न्यायालय से कहा: 12 वीं सदी में मंदिर के अस्तित्व का उल्लेख ◾INX मीडिया घोटाला : सीबीआई और ED ने चिदंबरम पर कसा शिकंजा , घर पर लगाया नोटिस, तलाशी अभियान अब भी जारी...◾PM मोदी ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री को फोन कर लंदन में भारतीयों पर हुए हमले का उठाया मुद्दा ◾असम में NRC भारत का आंतरिक मामला : जयशंकर ◾गडकरी और जावड़ेकर ने एम्स जाकर जेटली की सेहत की जानकारी ली ◾अनुच्छेद 370 हटने के बाद बारामूला में पहली मुठभेड़ ◾आम आदमी पार्टी के विधायक संदीप कुमार अयोग्य घोषित◾कश्मीर मुद्दे पर रक्षा मंत्री की US रक्षा मंत्री से बात , राजनाथ बोले - ये हमारा अंदरूनी मसला◾चंद्रयान-2 ने चांद की कक्षा में सफलतापूर्वक किया प्रवेश , अब ISRO का ध्यान ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ पर ◾TOP 20 NEWS 20 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

विदेश

मालदीव में भी PM मोदी ने 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' का किया आह्वान

पड़ोसी देश में पहली बार अपनी सरकार के मूल मंत्र को विस्तारित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' का आह्वान किया और मुस्लिम बहुल देश मालदीव के साथ भारत के काफी महत्वपूर्व संबंध होने का जिक्र किया। 

मालदीव की संसद को संबोधित करते हुए मोदी ने  शनिवार को कहा कि दक्षिण एशियाई क्षेत्र में एक समावेशी और सतत विकास की दृष्टि को साकार करने के लिए हमारी सरकार ने 'पड़ोस (के देश) पहले' की नीति अपनायी है। प्रधानमंत्री ने कहा, "मेरी सरकार का मूल मंत्र ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ केवल भारत के लिए ही नहीं है, बल्कि यह पूरी दुनिया के लिए है, खास तौर पर हमारे पड़ोसी देशों के लिए। यह हमारी (भारत की) विदेश नीति पर आधारित है।"

प्रधानमंत्री ने कहा, "पड़ोसी (देश) पहले भी हमारी नीति है और इसमें मालदीव का महत्व (विदेश नीति) अत्यंत स्वाभाविक है।" प्रधानमंत्री पद पर अपना दूसरा कार्यकाल शुरू करने के बाद मोदी ने अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए मालदीव को चुना। मोदी ने कहा कि इस दक्षिण एशियाई द्वीपीय राष्ट्र की उनकी यात्रा महज एक 'संयोग' नहीं है। 

उन्होंने कहा, "राष्ट्रपति (इब्राहिम मोहम्मद) सोलेह ने पिछले साल सत्ता में आने के बाद भारत को अपना पहला गंतव्य बनाया था और मैं उनके उस कदम के लिए आभार जताने यहां आया हूं।" दोनों देशों के बीच मौजूद विशेष संबंधों का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि भारत और मालदीव के बीच 2000 साल से अधिक पुराने व्यापारिक संबंध हैं। 

प्रधानमंत्री ने कहा, "जब बात गीतों और भाषा की आती है, तो हमारी आपस में कई सांस्कृतिक समानताएं हैं।" उन्होंने कहा कि मालदीव में हाल ही में संपन्न हुए चुनाव में लोकतंत्र की जीत को देख कर भारत सबसे अधिक खुश है। मोदी ने व्यापक आधार पर सामाजिक-आर्थिक विकास और लोकतांत्रिक तथा स्वतंत्र संस्थाओं की मजबूती के लिए अपनी आकांक्षाओं को साकार करने में मालदीव को भारत के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया।