BREAKING NEWS

भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ FIR दर्ज, टीवी डिबेट में पैगम्बर पर विवादित टिप्पणी का आरोप◾UGC ने कहा- बिना मान्यता डिग्री दे रहे हैं कई संस्थान, यहां न लें दाखिला, नहीं तो होगा नुकसान◾UP News: 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर योगी बोले- 75 सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर हमे आगे बढ़ना होगा◾ IPL 2022 Final: आईपीएल का फाइनल मुकाबला देखने आएंगे मोदी-शाह! एक लाख से ज्यादा दर्शक होंगे मौजूद◾यूपी : योगी सरकार ने पुलिस विभाग में किया बड़ा फेरबदल, 11 IPS अधिकारियों के किए तबादले, देखें सभी की लिस्ट ◾J&K News: जम्मू कश्मीर के कठुआ में सुरक्षाबलों ने पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया गया◾'मन की बात' में बोले मोदी- देश में 'यूनिकॉर्न' कंपनियों की संख्या हुई 100, महामारी में भी बढ़ा स्टार्टअप और धन ◾नेपाल : 22 लोगों को लेकर जा रहा तारा एयरलाइन्स का विमान लापता, 4 भारतीय भी थे सवार, तलाश जारी ◾दिल्ली : साकेत कोर्ट के जज की पत्नी ने की आत्महत्या, कल से थी लापता, जांच में जुटी पुलिस ◾दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना की फोटो का इस्तेमाल कर युवक को दी धमकी, स्पेशल सेल कर रही जांच ◾यूपी : कर्नाटक से अयोध्या जा रहे श्रद्धालुओं के वाहन की ट्रक से टक्कर, 6 की मौत, 10 घायल ◾India Covid Update : पिछले 24 घंटे में आए 2,828 नए केस, उपचाराधीन मामलों की संख्या हुई 17 हजार 87 ◾इंडोनेशिया : इंजन फेल होने से मकासर जलडमरूमध्य में डूबा जहाज, 25 लोग लापता, तलाश जारी ◾भारत के टीकाकरण अभियान की बिल गेट्स ने की तारीफ, दुनिया को सीख लेने की दी नसीहत ◾राज्यसभा को लेकर झारखंड के CM हेमंत सोरेन ने की सोनिया गांधी से की मुलाकात, मिल सकती है एक सीट ? ◾लिपुलेख, कालापानी को लेकर नेपाल ने फिर दोहराया बयान, PM देउबा बोले- जमीन वापस लेने के लिए है प्रतिबद्ध ◾आज का राशिफल ( 29 मई 2022)◾पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल पानी के मुद्दों पर वार्ता के लिए अगले हफ्ते भारत आएगा◾वेंकैया नायडू ने तमिलनाडु में करुणानिधि की 16 फुट ऊंची प्रतिमा का किया अनावरण ◾ योगी सरकार का कामकाजी महिलाओं के लिए बड़ा फैसला, जानें ऑफिस टाइमिंग को लेकर क्या दिया आदेश ◾

बेलारूस सीमा पर तनाव कम करने के लिए पुतिन और मैक्रों ने की बातचीत, करीब ढाई घंटे चली वार्ता

रूस के राष्ट्रपति 'व्लादिमीर पुतिन' और फ्रांस के राष्ट्रपति 'एमैनुएल मैक्रों' ने बेलारूस और यूरोपीय संघ के बीच सीमाओं पर बढ़ते प्रवासी दबाव को लेकर तनाव कम करने के लिए बेलारूस के साथ सोमवार को बातचीत की है। इस बात की जानकारी फ्रांस  के राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से दी गई है। इस बातचीत के बारे में एलिसे (रूसी राष्ट्रपति भवन) की ओर से जारी बयान के मुताबिक, करीब ढाई घंटे चली बातचीत में, दोनों राष्ट्रपति ने ‘‘शरणार्थियों के लिए मानवीय प्रयासों की जरूरत’’ पर सहमति जताई लेकिन किसी ठोस कदम की घोषणा नहीं की।

शरणार्थियों के साथ अत्यंत कठोर व्यवहार का पुतिन ने किया उल्लेख

इस बातचीत के बात यूरोपीय संघ (ईयू) ने कहा कि, प्रवासी दबाव बनाने में मॉस्को की भूमिका रही है और वह इसे कम करने में मदद कर सकता है। बातचीत के बारे में क्रेमलिन की खबर के अनुसार,  पुतिन ने मैक्रों को बेलारूस के राष्ट्रपति 'एलेक्जेंडर लुकाशेंको' के साथ अपने संबंधों में बारे में बताया और “ईयू देशों तथा बेलारूस के नेतृत्व के बीच प्रत्यक्ष रूप से पनपी समस्याओं पर चर्चा करने की आवश्यकता पर जोर दिया।’’ पुतिन ने पोलैंड के सीमा प्रहरियों द्वारा शरणार्थियों के साथ अत्यंत कठोर व्यवहार किए जाने का भी उल्लेख किया। पोलिश सेना लोगों को पोलैंड में प्रवेश करने से रोक रही है और उन शरणार्थियों को बेलारूस वापस भेज रही है जो सीमा पार कर रहे हैं।

बेलारूस के राष्ट्रपति ने की जर्मनी की चांसलर से बात 

बेलारूस की सरकारी समाचार एजेंसी ‘बेल्टा’ के मुताबिक सोमवार को बेलारूस के राष्ट्रपति लुकाशेंको ने जर्मनी की निवर्तमान चांसलर एंजेला मर्केल से, “बेलारूस-पोलैंड, बेलारूस-लिथुआनिया और बेलारूस-लातविया सीमाओं पर स्थिति” के बारे में भी करीब 50 मिनट तक बात की।