BREAKING NEWS

संजय राउत के बयान पर फडणवीस बोले- शिवसेना ने ‘लव जेहाद’ पर अपना रूख ‘नरम’ कर लिया है◾राकांपा प्रमुख शरद पवार बोले- शिवसेना विधायक सरनाईक के खिलाफ ईडी की कार्रवाई विपक्ष की निराशा है◾नेशनल कांफ्रेस के नेताओं ने सरकारी जमीन का किया अतिक्रमण : अनुराग ठाकुर◾'लव जिहाद' के खिलाफ अध्यादेश लाई योगी सरकार, जल्द बनेगा कानून ◾राहुल गांधी ने ‘निवार’ तूफान के मद्देनजर कांग्रेस कार्यकर्ताओं से जरूरतमंदों की मदद करने की अपील की ◾मोदी सरकार ने सुरक्षा का हवाले देते हुए बैन किए 43 मोबाइल ऐप्स, अधिकतर चाइनीज ऐप्स है शामिल ◾J&K प्रशासन का दावा - अब्दुल्ला का मकान गैरकानूनी तरीके से अतिक्रमण वाली जमीन पर बनाया गया ◾बंबई HC ने दी अभिनेत्री कंगना और उनकी बहन को बड़ी राहत, गिरफ्तारी पर लगाई अंतरिम रोक ◾CM ममता ने PM मोदी को दिलाया विश्वास, कहा- बंगाल कोविड-19 के टीकाकरण लिए केंद्र के साथ मिलकर करेगा काम ◾पीएम मोदी बोले- कोरोना को लेकर फिर से जागरूकता फैलाने की जरूरत, वैक्सीन अभियान एक नेशनल कमिटमेंट ◾Covid 19 : PM मोदी के साथ समीक्षा बैठक में ममता बनर्जी ने उठाया GST का मुद्दा◾पीएम मोदी ने स्वतंत्रता सेनानी सर छोटू राम को उनकी जयंती पर किया नमन ◾PM मोदी के साथ संवाद में बोले सीएम गहलोत - राजस्थान में हर दिन हो रही हैं 30,000 से अधिक जांच◾भारत ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण, जल-थल और वायु में वार करने में सक्षम ◾PM मोदी के खिलाफ चुनाव में नामांकन रद्द करने के मामले में तेज बहादुर को SC से झटका, याचिका खारिज ◾मुख्यमंत्रियों संग पीएम मोदी की बैठक में बोले केजरीवाल- दिल्ली में 1000 बेड हो रिजर्व, प्रदूषण के मामले में दें दखल ◾केंद्रीय मंत्री रावसाहेब के दावे पर बोले राउत- हमारी सरकार 4 साल और करेगी पूरे, विपक्ष के सारे प्रयास फेल◾रोहिंग्या मुद्दे को लेकर ओवैसी का गृह मंत्री अमित शाह पर वार, BJP को दिया यह चैलेंज◾कोरोना वायरस : दिल्ली में लगातार चौथे दिन 100 से ज्यादा की गई जान, हर घंटे में 5 लोगों की मौत◾राहुल गांधी का तंज- 'सूट बूट की सरकार' जो सिर्फ चंद पूंजीपतियों की मित्र बनी हुई है ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

व्लादिमीर पुतिन ने पत्रकारों को विदेशी एजेंट घोषित करने वाले कानून पर किए हस्ताक्षर

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक विवादित कानून पर हस्ताक्षर किए हैं जिसके तहत स्वतंत्र पत्रकारों और ब्लॉगरों को ‘‘विदेशी एजेंट’’ घोषित किया जा सकता है। आलोचकों ने इस कदम को मीडिया की आजादी का उल्लंघन बताया है। रूस के इस कानून में अधिकारियों को ब्रांड मीडिया संगठनों और गैर सरकारी संगठनों को विदेशी एजेंट घोषित करने की शक्ति प्रदान की गई है। 

रूसी सरकार की वेबसाइट पर प्रकाशित एक दस्तावेज के अनुसार, यह नया कानून तत्काल प्रभाव से लागू होगा। विदेशी एजेंट उन्हें कहा जाता है जो राजनीति में शामिल होते हैं और विदेशों से धन प्राप्त करते हैं। यह साबित होने परइन्हें एक विस्तृत दस्तावेज सौंपना होगा या जुर्माना भरना होगा। एमनेस्टी इंटरनेशनल और रिपोर्टर्स विदआउट बॉडर्स समेत नौ मानवाधिकार एनजीओ ने चिंता व्यक्त की है कि यह कानून न केवल पत्रकारों तक सीमित है बल्कि ब्लॉगरों और इंटरनेट उपभोक्ताओं पर भी लागू होगा जिन्हें विभिन्न मीडिया आउटलेट से छात्रवृत्तियां, फंडिंग या राजस्व मिलता है। 

रूस ने कहा कि वह इसलिए यह कानून चाहता था कि अगर पश्चिमी देशों में उसके पत्रकारों को विदेशी एजेंट बताया जाता है तो वह भी जैसे को तैसा कर सके। रूस ने पहली बार 2017 में यह कानून पारित किया था जब क्रेमलिन के फंड वाले आरटी टेलीविजन को अमेरिका में विदेश एजेंट घोषित किया गया था। 

गाजियाबाद में दो पत्नियों के साथ आठवीं मंजिल से कूदा शख्स, घर में मिली दो बच्चों की लाश