BREAKING NEWS

यूपी पुलिस के ADG का बड़ा दावा - हाथरस की घटना में लड़की से नहीं हुआ बलात्कार, गलत बयानी की गई◾राहुल - प्रियंका पर यूपी सरकार के मंत्री का तंज - ये जो 'भाई-बहन' दिल्ली से चले हैं, उन्हें राजस्थान जाना चाहिये◾हाथरस गैंगरेप : पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे राहुल-प्रियंका को पुलिस ने हिरासत में लिया◾प्रियंका और राहुल के काफिले को पुलिस ने परी चौक पर रोका, परिवार से मिलने के लिए हाथरस के लिये पैदल निकले◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, गर्दन पर चोट के निशान और टूटी थीं हड्डियां ◾सीएम गहलोत का आरोप - बारां की घटना को लेकर जनता को गुमराह कर रहा है विपक्ष ◾ हाथरस गैंगरेप : प्रियंका और राहुल के दौरे के मद्देनजर जिले की सभी सीमाएं सील ◾बलरामपुर में गैंगरेप की घटना को लेकर कांग्रेस ने UP सरकार पर साधा निशाना, किया यह दावा ◾देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना के 86,821 मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 63 लाख के पार ◾रवि किशन को मिली Y प्लस श्रेणी की सुरक्षा, मुख्यमंत्री योगी का किया धन्यवाद ◾कब रुकेगी हैवानियत, हाथरस-बलरामपुर के बाद MP और राजस्थान में नाबालिगों से गैंगरेप◾हाथरस गैंगरेप की घटना SIT ने शुरू की जांच, पीड़ित परिवार से आज प्रियंका गांधी कर सकती है मुलाकात ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 38 लाख के पार◾पीएम ने रामनाथ कोविंद को दी जन्मदिन की बधाई, राष्ट्रपति के लम्बे आयु के लिए की प्रार्थना◾हाथरस के बाद बलरामपुर में हुआ गैंगरेप, पुलिस ने कहा - नहीं तोड़े गए पैर और कमर, पीड़िता की हुई मौत ◾आज का राशिफल (01 अक्टूबर 2020)◾हाथरस दुष्कर्म मामले पर विजयवर्गीय बोले - ‘‘UP में कभी भी पलट सकती है कार’’ ◾KKR vs RR ( IPL 2020 ) : केकेआर की ‘युवा ब्रिगेड’ ने दिलाई रॉयल्स पर शाही जीत, राजस्थान को 37 रन से हराया◾पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा - दोनों देशों ने छठे दौर की वार्ता के नतीजों का सकारात्मक मूल्यांकन किया◾बंगाल BJP के वरिष्ठ नेता 1 अक्टूबर को करेंगे अमित शाह से मुलाकात◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

रोहिंग्या समुदाय : सू की ने तोड़ी चुप्पी, कहा-राष्ट्रहित से समझौता नहीं

रोहिंग्या समुदाय के लोगों के खिलाफ हिंसा को लेकर चौतरफा आलोचनाओं का सामना कर रहे म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की ने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि उनका देश ऐसी आलोचनाओं से डरने वाला नहीं है और किसी भी स्थिति में देश की सुरक्षा के साथ समझौता नहीं किया जा सकता।

\"\"

सुश्री सू की ने कहा कि म्यांमार ने राखिने प्रांत में शांति स्थापित करने की हरसंभव कोशिश की लेकिन रोहिंग्या समुदाय लोगों ने पुलिस वालों और बेगुनाह लोगों पर हमले किए। म्यांमार आतंकवाद से लड़ रहा था। उन्होंने कहा कि बेघर हुए लोगों के लिए हमें दुख है और सुरक्षा बलों की कार्रवाई के दौरान अगर किसी तरह के मानवाधिकार उल्लंघन हुआ है तो इसकी जांच कराई जायेगी। उन्होंने कहा कि दोषी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी।

\"\"

देश भर से खदेड़े जा रहे रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर सुश्री सू की ने कहा कि 70 साल से देश को शांति और स्थिरता की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि राखिने प्रांत में शांति स्थापना के लिए एक समिति बनाई गई है जिसकी अगुआई के लिए संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि म्यांमार अंतरराष्ट्रीय आलोचनाओं से डरता नहीं है लेकिन राखिने के लोगों को हुई परेशानी का हमें खेद है।

\"\"

Source

चीन ने भी देश के सुरक्षा हितों के संरक्षण की कोशिशों और राखिने प्रांत में हाल में हुई हिंसक घटनाओं के खिलाफ म्यांमार की कार्रवाई का समर्थन किया है। चीन के विदेश मंत्रालय ने आज यहां एक बयान जारी करके बताया कि विदेश मंत्री वांग यी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस को संयुक्त राष्ट्र में आयोजित एक बैठक के दौरान कहा कि म्यांमार ने अपने देश की सुरक्षा के लिए जो भी कदम उठाया है, चीन उसका समर्थन करता है।

\"\"

Source

गौरतलब है कि पश्चिमी म्यांमार के राखिने प्रांत में गत 25 अगस्त को रोहिंग्या विद्रोहियों के पुलिस चौकियों तथा सेना के शिविरों पर हमले करने के बाद से उनके खिलाफ शुरू हुई हिंसक कार्रवाई अब भी जारी है। इन हमलों में करीब 12 लोगों की मौत हुई थी। हिंसक कार्रवाई के कारण म्यांमार से अब तक चार लाख से अधिक रोहिंग्या बांग्लादेश पलायन कर चुके हैं।