BREAKING NEWS

Filmmaker नितिन मनमोहन की बिगड़ी तबीयत, हार्ट अटैक आने के कारण अस्पताल में कराया गया भर्ती ◾Iran: ईरान सरकार की पहल- इज़राइल के लिए जासूसी करने पर चार लोगों को फांसी दी◾Delhi: दिल्ली की हवा फिर हुई प्रदूषित, सरकार ने निर्माण कार्यों पर लगाई रोक◾Rajasthan: पायलट ने कहा- राहुल गांधी की यात्रा की कामयाबी से परेशान है भाजपा ◾UP News: यूपी में लड़की के साथ दरिंदगी, आरोपी ने पीड़िता के साथ 6 दिनों तक किया बलात्कार, जानें मामला◾Delhi: मनोज तिवारी ने कहा- भ्रष्टाचारी या सेवक में से किसी एक को चुनेगी 'जनता'◾मोदी को लेकर फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों का ट्वीट- "एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य" ◾Maharastra News: धर्म परिवर्तन का विरोध करने पर युवक ने महिला को दी धमकी, कहा- तुम्हारे 70 टुकड़े कर देंगे◾पिता ने अपने ही सात वर्षीय बेटे को किया किडनैप ,’पान सिंह तोमर ‘मूवी देखकर वारदात को दिया अंजाम◾पाक आर्मी चीफ़ ने भारत के ख़िलाफ़ उगला ज़हर, कहा दुश्मन से भिड़ने के लिए तैयार हैं हम◾पाक आर्मी चीफ़ ने भारत के ख़िलाफ़ उगला ज़हर, कहा दुश्मन से भिड़ने के लिए तैयार हैं हम◾Gujarat: कल गुजरात में होगा चुनाव का आखिरी मैच! डाले जाएंगे 93 सीट पर मतदान, मैदान में 833 उम्मीदवार◾MCD Election :क्या केजरीवाल इस बार15 साल पुरानी सत्ता को बाहर का रास्ता दिखा पाएंगे◾Tamil Nadu: सीएम स्टालिन ने कहा- मंदिर लोगों के लिए होते है... किसी की निजी संपत्ति नहीं ◾''1971'' भारतीय नौसेना का ऑपरेशन ट्राइडेंट, जिसने पाकिस्तान को धूल चटा दी ◾महाराष्ट्र में 7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में कोर्ट का अहम फैसला- आरोपी को हुई 10 वर्ष की कैद◾Navy Day 2022: युद्ध स्मारक पर नेवी चीफ और CDS ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, PM ने भी दी बधाई◾कांग्रेस का मास्टर प्लान- 'भारत जोड़ो यात्रा' के बाद शुरू होगी ‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान’, 26Jan से होगा शुभारंभ◾Draupadi Murmu: राष्ट्रपति मुर्मू का आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी ने किया अभिनंदन◾MCD चुनाव के बीच सांसद मनोज तिवारी ने 'आप' पर लगाया चुनाव में धांधली का आरोप◾

रूस-यूक्रेन युद्ध को 100 दिन पूरे, जानिए राष्ट्रपति जेलेंस्की ने किस तरह अपनी जनता में भरा जोश

रूस और यूक्रेन के बीच जारी भीषण युद्ध के 100 दिन पूरे हो चुके हैं और अभी भी युद्ध विराम की कोई स्थिति नजर नहीं आ रही है। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि, जब रूस ने 100 दिन पहले आक्रमण किया था, तो किसी को भी उनके देश के बचने की उम्मीद नहीं थी और दुनियाभर के नेताओं ने उन्हें देश छोड़कर चले जाने की सलाह दी थी। जेलेंस्की ने अप्रैल में युद्ध के 50वें दिन देर रात वीडियो संबोधन में कहा था, लेकिन वे हमें नहीं जानते। वे नहीं जानते थे कि यूक्रेन के लोग कितने बहादुर हैं, हम स्वतंत्रता को कितना महत्व देते हैं। हो सकता है कि वह अपने बारे में बात कर रहे हों। कोई नहीं जानता था कि मनोरंजन की दुनिया से राष्ट्रपति पद तक पहुंचा 44 वर्षीय व्यक्ति रूस की विशाल सेना के आक्रमण का जवाब कैसे देगा।
दुनिया भर की दो दर्जन संसद को संबोधित कर चुके है जेलेंस्की
राष्ट्रपति जेलेंस्की की प्रतिक्रिया जबरदस्त रही है, उन्होंने अप्रत्याशित रूप से जबरदस्त प्रतिरोध करने में अपने देश का नेतृत्व किया है। हर रात, वह सोशल मीडिया पर एक वीडियो संबोधन के साथ यूक्रेन के लोगों में लड़ाई को लेकर जोश भरते हैं। अब तक 100 दिन हो चुके हैं और हर रात के संबोधन के साथ वह लोगों को याद दिलाते हैं कि वह मैदान छोड़कर भागे नहीं हैं। युद्ध की शुरुआत से ही उन्होंने सेना के हरे रंग से मेल खाते रंग के कपड़े पहने हैं। वह अक्सर एक साधारण सी टी-शर्ट में दिखाई देते हैं। एक अथक और कुशल संचारक जेलेंस्की ने संयुक्त राष्ट्र, ब्रिटेन की संसद, अमेरिकी कांग्रेस और दुनिया भर के लगभग दो दर्जन अन्य संसदों के साथ ही कान फिल्म महोत्सव और अमेरिका के ग्रैमी पुरस्कारों को वीडियो लिंक के माध्यम से संबोधित किया। शायद ही कभी बिना टाई के किसी व्यक्ति ने इतने अति विशिष्ट लोगों को संबोधित किया हो।

रात्रिकालीन वीडियो संबोधन है पसंदीदा माध्यम
जेलेंस्की ने पत्रकारों को इंटरव्यू भी दिए हैं। उन्होंने कीव मेट्रो की सुरक्षा में एक संवाददाता सम्मेलन किया। लेकिन अपने नागरिकों को संदेश देने और प्रेरित करने के लिए उनका रात्रिकालीन वीडियो संबोधन ही उनका पसंदीदा माध्यम रहा है। वह अक्सर यूक्रेनियाई लोगों को ‘‘एक बहादुर देश के स्वतंत्र लोगों’’ या ‘‘हमारे महान देश के अजेय लोगों’’ के रूप में उत्साहजनक अभिवादन के साथ संबोधन शुरू करते हैं जो हमेशा ‘‘यूक्रेन की जय’’ के साथ समाप्त होता है। युद्ध के सौ दिन होने पर उन्होंने कहा कि सौ दिनों से लड़ रहे हैं: ‘‘शांति, ‘जीत, यूक्रेन, यूक्रेन की शान।
वर्ष 2019 में राष्ट्रपति बने थे जेलेंस्की
जून 2019 में जेलेंस्की के राष्ट्रपति चुने जाने के तुरंत बाद जब व्लादिमीर पुतिन से पूछा गया कि उन्होंने यूक्रेन के नए नेता को बधाई क्यों नहीं दी, इस पर पुतिन ने अभिनेता से राष्ट्रपति बने जेलेंस्की को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। पुतिन ने कहा, किसी का किरदार निभाना अलग बात है और हकीकत में उस किरदार में होना दूसरी बात है। महत्वपूर्ण बात यह है कि जिम्मेदारी लेने के लिए साहस और चरित्र होना चाहिए। उन्होंने अब तक अपना चरित्र नहीं दिखाया है। लेकिन जेलेंस्की ने इन 100 दिनों में अपना चरित्र यूक्रेन के लोगों को, दुनिया को और पुतिन को दिखा दिया है।