BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 11,514 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 4.79 लाख के पार ◾सुशांत सिंह राजपूत केस : CBI ने रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR◾चीनी घुसपैठ से जुड़ी रिपोर्ट रक्षा मंत्रालय ने वेबसाइट से क्यों हटाई, वास्तविक स्थिति बताए सरकार: कांग्रेस◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार 328 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या दो लाख के करीब◾राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट पर अजय माकन बोले- यथास्थिति बरकरार है◾सुशांत आत्महत्या केस : प्राथमिकी को अंतिम रूप देने से पहले CBI ने बिहार पुलिस से किया संपर्क◾देशभर में कोरोना से ठीक होने की दर 67.62 फीसदी, मृत्यु दर 2.07 प्रतिशत: स्वास्थ्य मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,299 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.41 लाख के पार◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बोले- व्यापक स्तर पर कार्रवाई से कोरोना के मामले और मौत प्रति दस लाख पर कम रहे◾24 घंटे में UP में कोरोना के 4658 नए मामले की पुष्टि, 61 मरीजों ने तोड़ा दम◾बिहार के कांग्रेस नेताओं से बोले राहुल-आने वाला है बड़ा तूफान◾राम मंदिर के निर्माण पर PAK की टिप्पणी को भारत ने बताया निंदनीय, कहा-साम्प्रदायिकता भड़काने से बचे पड़ोसी देश◾TV एक्टर और मॉडल समीर शर्मा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी◾RBI ने मौद्रिक नीति का किया ऐलान, नीतिगत ब्याज दर में नहीं हुआ कोई बदलाव◾इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा-मस्जिद बनाने के लिए ध्वस्त किया जा सकता है मंदिर◾राहुल गांधी ने PM से पूछा-चीनी घुसपैठ को लेकर झूठ बोलने की वजह बतायें मोदी ◾देश में कोरोना संक्रमण के 56,282 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 19 लाख 64 हजार के पार ◾भारी बारिश के कारण जलमग्न हुई मुंबई, महाराष्ट्र में NDRF की 16 टीमों को किया गया तैनात◾अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग लगी, 8 कोरोना मरीजों की मौत, CM रूपानी ने जांच के दिए आदेश◾भाजपा नेता मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उप राज्यपाल, शुक्रवार को लेंगे शपथ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सऊदी अरब की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको पर ड्रोन से हमला, लगी भीषण आग

सऊदी अरब में तेल की दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी के दो संयंत्रों में शनिवार को ड्रोन से हमला किया गया। यमन के विद्रोहियों द्वारा यह हमला ऐसे समय में किया गया है जब यह कंपनी शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने को लेकर तैयारी कर रही है। पूर्वी सऊदी अरब में अरामको के दो बड़े संयंत्रों अब्कैक और खुरैस पर हमलों के बाद आसमान में धुएं के गुबार उठने लगे। 

ईरान के साथ चल रहे क्षेत्रीय तनावों के बीच यह हमला हुआ है। इन हमलों से पता चलता है कि ईरान से जुड़े हूती विद्रोही सऊदी अरब में तेल प्रतिष्ठानों के लिए कैसे गंभीर खतरा बन गए हैं। सऊदी अरब दुनिया में कच्चे तेल का सबसे बड़ा निर्यातक है। आधिकारिक सऊदी प्रेस एजेंसी ने गृह मंत्रालय के एक बयान के हवाले से कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय समयानुसार एक बजे अरामको के औद्योगिक सुरक्षा दलों ने अब्कैक और खुरैस में ड्रोन हमले के कारण लगी आग से निपटना शुरू किया।’’ उसने बताया, ‘‘दोनों संयंत्रों में लगी आग पर नियंत्रण पा लिया गया है।’’ बयान में कहा गया है कि ईस्टर्न प्रांत में हमले के बाद जांच शुरू कर दी गई। 

सीजफायर उल्लंघन का भारतीय सेना ने दिया मुंह तोड़ जवाब, मार गिराए दो सैनिक, पाक सैनिक सफेद झंडा दिखाकर शव ले गए

हालांकि उसने ड्रोनों के सूत्र के बारे में नहीं बताया। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि हमलों में कोई घायल हुआ है या नहीं और न ही तेल उत्पादन पर असर का पता लगा है। हाल के महीनों में हूती विद्रोहियों ने सीमा पार सऊदी अरब के अड्डों और अन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाते हुए मिसाइल और ड्रोन हमले तेज कर दिए हैं जिसे वह यमन में विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाकों में सऊदी अरब के नेतृत्व में लंबे समय से की जा रही बमबारी का बदला बताते हैं। 

अरामको के धहरान मुख्यालय से 60 किलोमीटर दक्षिणपश्चिम में स्थित अब्कैक संयंत्र कंपनी के सबसे बड़े तेल प्रसंस्करण संयंत्र का गढ़ है। पहले भी आतंकवादी इसे निशाना बनाते रहे हैं। अल-कायदा के आत्मघाती विस्फोटकों ने फरवरी 2006 में इस तेल कंपनी पर हमला करने की कोशिश की थी लेकिन वे नाकाम रहे थे। 

धहरान से 250 किलोमीटर दूर स्थित खुरैस अरामको का प्रमुख ऑयल फील्ड है। इस हमले से विश्व शक्ति के साथ परमाणु समझौते को लेकर अमेरिका और ईरान के आमने-सामने होने के बीच तनाव बढ़ने की संभावना है। अमेरिका और सऊदी अरब खाड़ी में टैंकरों पर हमलों के लिए ईरान को भी जिम्मेदार ठहराते रहे हैं। यह ताजा हमला ऐसे समय में हुआ है जब सऊदी अरब ने अरामको को शेयर बाजार में उतारने की तैयारी तेज कर दी है।