BREAKING NEWS

यासीन मलिक को उम्र कैद की सजा सुनाने वाले जज को दी जाएगी 'Y Category' की सुरक्षा? जानें पूरा मामला ◾1 जून से बदल जाएंगे ये 5 नियम, जानें कैसे बढ़ जाएगा आम आदमी की जेब का बोझ◾विधानसभा में छलका शिवपाल का दर्द... अखिलेश पर जमकर साधा निशाना, CM योगी को लेकर कही यह बात ◾यूपी : मंकीपॉक्स को लेकर अलर्ट हुई योगी सरकार, अंतरराष्ट्रीय यात्रा करने वाले यात्रियों पर रखेगी नजर ◾राजस्थान : खेल मंत्री के ट्वीट पर बोले CM गहलोत, गंभीरता से न ले उनकी टिप्पणी, तनाव में कही होगी यह बात ◾Share Market : शेयर बाजार ने की अच्छी शुरुआत, खुलते ही 500 अंक चढ़ा सेंसेक्स ◾अरुणाचल प्रदेश नहीं है कचरे का ढेर, कुत्ता टहलाने वाले IAS के तबादले पर भड़कीं महुआ मोइत्रा◾30 रुपये महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल तो इमरान ने शहबाज शरीफ पर बोला हमला, भारत की तारीफ में पढ़े कसीदे◾World Corona : 52.78 करोड़ के पार पहुंचे मामले, अब तक 62.8 लाख मरीजों की हो चुकी है मौत ◾देश में एक दिन में 3 हजार के करीब नए मामले, 15814 पहुंचा एक्टिव केस का आंकड़ा ◾भारतीय लेखिका गीतांजलि श्री को मिला बुकर प्राइज 2022, उपन्यास 'रेत समाधि' के अंग्रेजी अनुवाद को मिला खिताब ◾देश के पहले PM जवाहर लाल नेहरू की 58वीं पुण्यतिथि, प्रधानमंत्री मोदी-सोनिया ने दी श्रद्धांजलि ◾J&K : टीवी कलाकार की हत्या में शामिल दोनों आतंकी ढेर, श्रीनगर में भी 2 दहशतगर्दों का हुआ सफाया◾आज का राशिफल ( 27 मई 2022)◾त्यागराज स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी संजीव खिरवार का लद्दाख ट्रांसफर, पत्नी का अरुणाचल तबादला◾PM मोदी के नेतृत्व और सशस्त्र बलों के योगदान ने भारत के प्रति दुनिया के नजरिये को बदला : राजनाथ◾PM मोदी ने तमिल भाषा का किया जिक्र , स्टालिन ने ‘सच्चे संघवाद’ को लेकर साधा निशाना◾भारत, यूएई ने जलवायु कार्रवाई के लिए समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर ◾J&K : कश्मीर में टीवी कलाकार की हत्या में शमिल दो आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में घिरे◾J&K : कुपवाड़ा में सेना ने घुसपैठ का प्रयास किया विफल , तीन आतंकवादी मारे गए, पोर्टर की भी मौत◾

सात और गवाहों ने मुम्बई हमले के मुख्य साजिशकर्ता हाफिज सईद के खिलाफ गवाही दी

पाकिस्तान की एक आतंकवादी निरोधक अदालत में सात और गवाहों ने मुम्बई हमले के मुख्य साजिशकर्ता हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद के वित्तपोषण में उसकी संलिप्तता के बारे में शुक्रवार को गवाही दी।

 

लाहौर की आतंकवाद निरोधक अदालत ने सईद और उसके करीबियों -- हाफिज अब्दुल सलाम, मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल को 11 दिसंबर को आतंकवाद के वित्त पोषण के आरोपों में अभ्यारोपित किया था। 

बृहस्पतिवार को पांच गवाहों ने सईद और उसके करीबी इकबाल के खिलाफ गवाही दी थी। 

अदालत के एक अधिकारी ने सुनवाई के बाद कहा, ‘‘ सात और गवाहों ने चार घंटे तक चली सुनवाई के दौरान सईद और इकबाल की आतंकवाद के वित्तपोषण में संलिप्तता को लेकर उनके खिलाफ गवाही दी।’’ 

उन्होंने बताया कि सईद के वकीलों ने गवाहों से जिरह की। 

आतंकवाद निरोधक अदालत के न्यायाधीश अरशद हुसैन भुट्टा ने यह सुनवाई शनिवार तक के लिए स्थगित कर दी। 

पंजाब पुलिस के आतंकवाद निरोधक विभाग ने जमात उद दवा के प्रमुख और इकबाल को उच्च सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया। 

जमात उद दावा, लश्कर ए तैयबा से जुड़ा संगठन है जिसने 2008 में मुम्बई में हमला किया था। इस हमले में 166 लोगों की जान चली गयी थी।