BREAKING NEWS

LIVE : भारत पहुंचने से पहले ट्रंप ने हिंदी भाषा में किया ट्वीट, स्वागत के लिए अहमदाबाद पहुंचे मोदी◾ट्रम्प के स्वागत में अहमदाबाद तैयार, छाए भारत-अमेरिकी संबंधों वाले इश्तेहार◾दिल्ली और झारखंड में BJP विधानमंडल दल के नेता का आज होगा ऐलान ◾जाफराबाद में CAA को लेकर हुई पत्थरबाजी के बाद इलाके में तनाव, मेट्रो स्टेशन बंद◾Modi सरकार ने पद्म सम्मान के लिये ‘गुमनाम’ चेहरे खोजे : केंद्रीय मंत्री◾अब कुछ ही घंटो में भारत यात्रा के लिए अहमदाबाद पहुंचेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति Trump , मोदी को बताया दोस्त◾मेलानिया का स्वागत करके खुशी होती, हमने अमेरिकी दूतावास की चिंताओं का किया सम्मान : मनीष सिसोदिया◾Trump की भारत यात्रा से किसी महत्वपूर्ण परिणाम के सकारात्मक संकेत नहीं हैं : कांग्रेस◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.55 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद, जानिए ! पूरा कार्यक्रम◾अमेरिकी दूतावास की सफाई - स्कूल में मेलानिया के साथ CM केजरीवाल की मौजूदगी से कोई आपत्ति नहीं◾ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर PM मोदी बोले - अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को लेकर हिंदुस्तान उत्सुक◾ट्रम्प की थाली में परोसे जाएंगे गुजराती व्यंजन, सूची में खमण भी शामिल ◾नमस्ते ट्रंप : एयर इंडिया ने जारी की एडवाइजरी - यात्रियों को अहमदाबाद हवाईअड्डा जल्द पहुंचने की जरूरत◾भारत 24वां देश जिसके दौरे पर आ रहे हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾डिजिटल कंपनियों पर वैश्विक कर व्यवस्था समावेशी हो: सीतारमण ◾प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों के खाते में भेजे गए 50850 करोड़ रुपये◾ट्रम्प की यात्रा से दोनों देशों को मिलेगा एक-दुसरे को पहचानने का मौका : SBI प्रबंध निदेशक◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कश्मीर को लेकर पाक राष्ट्रपति की चिंताओं का समर्थन करने की बात से किया इनकार◾Trump - Modi गुजरात में कल करेंगे रोड शो, एक लाख से अधिक लोगों की मौजूदगी में होगा ‘नमस्ते ट्रंप’, शाह ने की समीक्षा◾भारत के सामने गिड़गिड़ाया चीन, कहा- हमें उम्मीद है कि भारत कोरोना वायरस संक्रमण की वस्तुपरक समीक्षा करेगा◾

सिंगापुर और भारत का मजबूत रिश्ता दुनिया के लिए अहम : जयशंकर

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सिंगापुर में आयोजित 'अ स्टार्टअप एंड इनोवेशन एग्जीबीशन' का आज उद्घाटन किया।  एग्जीबीशन में भारत के लगभग 60 स्टार्टअप्स ने हिस्सा लिया है। इस दौरान उन्होंने सिंगापुर और भारत के मजबूत रिश्ते को दुनिया के लिए भी अहम बताया। 

सिंगापुर में 'स्टार्ट अप एंड इनोवेशन एग्जीबिशन' के उद्घाटन सत्र में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि जब हम (भारत और सिंगापुर) अपने संबंधों के समकालीन दौर में एक साथ आए थे, यह वह समय था जब दुनिया बदल रही थी और भारत बदल रहा था। दो बदलावों का एक दूसरे के साथ कुछ लेना-देना था। 

उन्होंने कहा कि भारत में उस समय भुगतान का संकट था और आर्थिक सुधारों पर काम चल रहा था। उस परिस्थिति में भारत ने सिंगापुर का रुख किया और सिंगापुर ने प्रतिक्रिया दी। सिंगापुर तभी से भारत की वृद्धि में एक महत्वपूर्ण भागीदार बना हुआ है। 

जयशंकर ने कहा, भारत और सिंगापुर के बीच बहुत मजबूत रक्षा संबंध हैं। हमने अभी-अभी निर्बाध नौसेना अभ्यास के 25 वर्ष पूरे किए हैं, जो मुझे लगता है कि भारत दुनिया के किसी भी देश के साथ सबसे लंबा है। राजनीतिक, सामरिक और साथ ही आर्थिक वाणिज्यिक क्षेत्रों में, सिंगापुर भारत की नीतियों के लिए एक बड़ा केंद्र बन गया है। आज, जो द्विपक्षीय संबंध के रूप में शुरू हुआ है वह कुछ ऐसा है जो बहुत बड़ा हो गया है। 

रक्षा मंत्री ने कहा, भारत की बड़ी चिंताओं में चीन के साथ उसके संबंध शामिल हैं, क्योंकि हम चीन के साथ एक बहुत बड़ा व्यापार-घाटा चलाते हैं, जिसका मानना ​​है कि यह अनुचित प्रतिबंधित बाजार पहुंच का परिणाम है।