BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना की सबसे बड़ी उछाल , 7,074 नए मामलों के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾विधान परिषद के सभापति के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद सीएम नीतीश ने भी कराया कोविड-19 टेस्ट ◾‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी : राहत कार्य सबसे बड़ा ‘सेवा यज्ञ’ ◾लॉकडाउन के दौरान UP में हुए सराहनीय सेवा कार्यों के लिए सरकार और संगठन बधाई के पात्र : PM मोदी ◾पीएम मोदी और घायल सैनिकों की मुलाकात वाले हॉस्पिटल को फर्जी बताने के दावे की सेना ने खोली पोल◾दिल्ली में 24 घंटे के दौरान 2505 नए कोरोना पोजिटिव मामले आए सामने और 81 लोगों ने गंवाई जान ◾कुख्यात अपराधी विकास दुबे के नाराज माता - पिता ने कहा 'मार डालो उसे, जहां रहे मार डालो' ◾ममता सरकार ने दिल्ली, मुंबई, चेन्नई व तीन अन्य शहरों से कोलकाता के लिए यात्री उड़ानों पर लगाया बैन◾देश के होनहारों को प्रधानमंत्री ने ‘आत्मनिर्भर भारत ऐप नवप्रवर्तन चुनौती’ में भाग लेने के लिए किया आमंत्रित◾रणदीप सुरजेवाला ने PM पर साधा निशाना, बोले-चीन का नाम लेने से क्यों डरते हैं मोदी◾जम्मू-कश्मीर : कुलगाम में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक आतंकवादी को किया ढेर ◾कांग्रेस का प्रधानमंत्री से सवाल, कहा- PM मोदी बताएं कि क्या चीन का भारतीय जमीन पर कब्जा नहीं◾कानपुर मुठभेड़ : विकास दुबे को लेकर UP प्रशासन सख्त, कुख्यात अपराधी का गिराया घर◾नेपाल : कम्युनिस्ट पार्टी की बैठक टली, भारत विरोधी बयान देने वाले PM ओली के भविष्य पर होना था फैसला◾देश में कोरोना वायरस के एक दिन में 23 हजार से अधिक मामले आये सामने,मृतकों की संख्या 18,655 हुई ◾चीनी घुसपैठ पर लद्दाखवासियों की बात को नजरअंदाज न करे सरकार, देश को चुकानी पड़ेगी कीमत : राहुल गांधी◾धर्म चक्र दिवस पर बोले PM मोदी- भगवान बुद्ध के उपदेश ‘विचार और कार्य’ दोनों में देते हैं सरलता की सीख ◾World Corona : दुनियाभर में वैश्विक महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 10 लाख के पार ◾पूर्वी लद्दाख गतिरोध : चीन के साथ तनातनी के बीच भारत को मिला जापान का समर्थन◾ट्रेनों के निजीकरण पर रेलवे का बयान : नौकरियां नहीं जाएंगी, लेकिन काम बदल सकता है ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

विदेशों के ऐसे मजाकिया कानून जो टूरिस्टों के लिए जानना बेहद जरुरी है

विदेशों में छुट्टियां बिताने का अलग ही मज़ा होता है और सैलानी जब अच्छी-खासी रकम खर्च करके विदेश घूमने जाते है तो लाज़मी है वो ढेर सारा मज़ा करने की कोशिश भी करते है। लेकिन कुछ देशों में वेकेशन पर जाने से पहले वहां के अजीबोगरीब कानूनों के बारे में पता होना जरुरी है ताकि आपका मज़ा आपके लिए सजा न बन जाए। आज हम आपको ऐसे ही पांच विदेशी कानूनों के बारे में बता रहे है जिनसे आप इन देशों में बिना फ़िक्र के मौज-मस्ती कर सकते है। \"\"जापान: इस देश में, अत्याधुनिक एलर्जी / साइनस दवाएं जिनमें घटक स्यूडोफ़ेड्रिन होते हैं जैसे विक्स इनहेलर्स और सुदाफ़ेड को जापान के सख्त उत्तेजक औषध विरोधी कानूनों के तहत प्रतिबंधित किया गया है। कोडेन की सुविधा वाले दवाएं भी निषिद्ध हैं और उन्हें जापान में नहीं लाया जाना चाहिए। \"\"इटली: सावधान रहें यदि आप इटली में एक आरामदेह दोपहर का भोजन या ताज़ा पेय का उपभोग करते हैं। चर्च की सीढ़ियों पर या चर्च के आंगन में बैठे हुए खाना या पीना यहाँ अपराध है। इसी तरह समान कानून सार्वजनिक भवनों के पास खाने के लिए लागू होता है तो यहाँ पर आने के बाद इस कानून को ध्यान में रखे और बेवजह की परेशानी से बचे। \"\"फीजी : ये देश सैलानियों का स्वर्ग कहा जाता है, जहां सूर्योदय की सुन्दरता और तैराकी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा होती है, लेकिन अगर आप अपनी पैंट या टॉप के बिना पकडे जाने पर आपके ऊपर सार्वजनिक नग्नता और टॉपलेस स्नान के कानून के उल्लंघन का आरोप लग सकता है जो यहाँ पूरी तरह अवैध है। इसलिए ढके रहे और जेल जाने से बचे रहे। \"\"सैन फ्रांसिस्को: यहाँ की सड़कों पर कबूतरों को दाना खिलाना अवैध है। गोल्डन गेट ब्रिज के लिए सर्वव्यापी प्रसिद्ध शहर रोगों को फैलाने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के लिए पक्षियों को दोषी ठहराता है। यदि आप सैन फ्रांसिस्को के कबूतरों को भोजन प्रदान करने के लिए पकड़े गए हैं, तो भारी जुर्माने का सामना कर सकते हैं।  शहर के पुलिस विभाग द्वारा यहाँ के नागरिकों को भी कबूतर फिडर में रिपोर्ट करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। \"\"मालदीव:  इस देश में  इस्लाम के अलावा किसी भी धर्म का सार्वजनिक आयोजन निषिद्ध है, और इस देश में बाइबिल का आयात करना अपराध है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप स्थानीय लोगों को परेशान न करें या कानून खराब नहीं करेंगे तो अपनी मालदीव यात्रा पर बाइबल लेकर ना जाये।