BREAKING NEWS

कर्नाटक विधानसभा में नहीं हो सका विश्वास मत पर फैसला, सदन के अंदर BJP का धरना ◾सपा सांसद आजम भूमाफिया हुए घोषित, किसानों की जमीन पर कब्जा करने का है आरोप◾विपक्षी दलों को निशाना बना रही है भाजपा : BSP◾कर्नाटक : राज्यपाल ने सरकार को दिया शुक्रवार 1.30 बजे तक बहुमत साबित करने का समय◾कई बंगाली फिल्म व टेलीविजन कलाकार BJP में हुए शामिल ◾कर्नाटक का एक और विधायक पहुंचा मुंबई , खड़गे ने बताया BJP को जिम्मेदार ◾ इशरत जहां का आरोप-हनुमान चालीसा पाठ में भाग लेने को लेकर धमकी दी गई ◾कुलभूषण जाधव पर ICJ के फैसले को तत्काल लागू करें : भारत ने Pak से कहा ◾IT ने नोएडा में मायावती के भाई और भाभी का 400 करोड़ का 'बेनामी' भूखंड किया जब्त◾सोनभद्र प्रकरण : मृतकों की संख्या 10 हुई, UP पुलिस ने 25 लोगों को किया गिरफ्तार ◾विधानसभा में ही डटे बीजेपी MLA◾कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत पर चर्चा के दौरान हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही शुक्रवार तक स्थगित - विस अध्यक्ष◾Top 20 News 18 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾कुलभूषण जाधव मामले में ICJ का फैसला भारत के रुख की पुष्टि : विदेश मंत्रालय ◾BJP में शामिल हुए पूर्व कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर, जीतू वघानी ने दिलाई सदस्यता◾कर्नाटक संकट : सिद्धारमैया ने कहा-SC के पिछले आदेश के स्पष्टीकरण तक फ्लोर टेस्ट करना उचित नहीं◾कर्नाटक : CM कुमारस्वामी ने पेश किया विश्वास मत प्रस्ताव◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान- अनधिकृत कॉलोनियों के मकानों की होगी रजिस्ट्री◾मुंबई पुलिस ने दाऊद इब्राहिम ने भतीजे रिजवान कासकर को किया गिरफ्तार◾मायावती के भाई आनंद कुमार के खिलाफ IT विभाग की कार्रवाई, 400 करोड़ का प्लॉट जब्त◾

विदेश

सूडान की सैन्य परिषद की राजनीतिक संक्रमण योजना को अरब लीग का समर्थन

अरब लीग (एएल) ने सूडान की ट्रांजिशनल मिलिट्री काउंसिल (टीएमसी) द्वारा देश में राजनीतिक संक्रमण के लिए घोषित 'महत्वपूर्ण कदम' को अपना समर्थन दिया है। एएल ने एक बयान में यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने रविवार को बताया कि लीग ने टीएमसी और राजनीतिक व नागरिक बलों द्वारा एक राष्ट्रीय सहमति तक पहुंचने के प्रयासों को समर्थन दिया है, जो 'सूडानी लोगों की इच्छाओं और आशाओं' को समझेगा।

लीग ने सूडानी पार्टियों से यह भी आग्रह किया कि वे संवाद कायम रखने पर जोर देती रहें क्योंकि 'वांछित राजनीतिक परविर्तन को हासिल करने के लिए एकमात्र साधन' यही है और साथ ही सूडान को स्थिरता की ओर ले जाने के लिए वाले सभी लोगों का समर्थन करने का अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से आह्वान किया।

सूडानी सेना ने चार महीने के राष्ट्रव्यापी विरोध के जवाब में 11 अप्रैल को सूडान के पूर्व राष्ट्रपति उमर अल-बशीर को अपदस्थ कर हिरासत में ले लिया था। बशीर ने तीन दशक तक सूडान पर शासन किया। टीएमसी प्रमुख अब्देल-फतह अल-बुरहान ने शनिवार को एक टीवी संबोधन में घोषणा की कि जल्द ही राष्ट्रीय सहमति के आधार पर एक नागरिक सरकार का गठन किया जाएगा। उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि टीएमसी दो साल की ट्रांजिशनल अविध के लिए प्रतिबद्ध है, जिसके बाद शासन को लोगों द्वारा गठित नागरिक सरकार को सौंप दिया जाएगा।