BREAKING NEWS

मुझे उन अधिकारियों की सूची दें जो भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की बात नहीं सुनते : योगी आदित्यनाथ ◾भारत के लिए प्रदूषण बना बड़ी चिंता! दिल्ली में हर साल हजारों की जाती है जान ◾जम्मू-कश्मीरः मुठभेड़ के बाद फरार आतंकवादियों की तलाश में जुटी पुलिस, हाई अलर्ट पर सुरक्षाबल ◾हिमाचल प्रदेश : कांग्रेस के दो विधायकों ने की भाजपा की सदस्यता ग्रहण, मुख्यमंत्री जयराम ने किया स्वागत◾थाईलैंड के विदेश मंत्री के साथ एस. जयशंकर ने की खास बातचीत, जानिए किन मुद्दों पर हुई चर्चा ◾दिल्ली में रोहिंग्या मुसलमानों को फ्लैट देने का नहीं दिया कोई निर्देश : केंद्रीय गृह मंत्रालय ◾दिल्ली के बक्करवाला के अपार्टमेंट में भेजे जाएंगे रोहिंग्या शरणार्थी, पुलिस सुरक्षा भी कराई जाएगी मुहैया : हरदीप सिंह पुरी◾अब रोहिंग्या शरणार्थियों के पास होगा रहने का ठिकाना, केंद्र के फैसले पर AAP हमलावर, BJP नाखुश◾उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने किया ब्याज दरों में इजाफा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए दर 0.50 प्रतिशत से बढ़कर 0.75◾MP मंत्री तुलसीराम की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, बाल-बाल बचा परिवार ◾उत्तर प्रदेश की 10 हजार बेटियों को दी जाएगी 'Self Defense' की ट्रेनिंग : यूपी सरकार ◾राजस्थान : रामदेवरा मेले में आने लगे श्रद्धालु, 35 लाख से अधिक भक्तों के आने की उम्मीद◾बीजेपी ने पार्टी के संसदीय बोर्ड में किया बड़ा बदलाव, गडकरी और चौहान को हटाकर इन नोताओं को किया शामिल ◾गुजरातः चुनावों से पहले कांग्रेस के दो नेता भाजपा में शामिल, बीजेपी ने किया भगवा अंगवस्त्र और टोपियां देकर स्वागत ◾CM केजरीवाल ने की ‘मेक इंडिया नंबर 1’ अभियान की शुरुआत, कहा-इसका राजनीति से कोई संबंध नहीं◾कचरा बनी बागमती, मानी जाती है नेपाल की सबसे पवित्र नदी ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा- भारत ने रूस से तेल खरीदने के अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया◾राजस्थान में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार? जानिए क्या कहती है जनता◾कार्तिकेय सिंह के अरेस्ट वारंट पर बोले CM नीतीश, मुझे मामले की जानकारी नहीं◾Mann Ki Baat :PM मोदी ने 'मन की बात' की 28वीं कड़ी के लिए मांगे सुझाव, 28 अगस्त को होगा प्रसारण◾

Monkeypox Outbreak 2020: बदला जा सकता है 'Monkeypox' का नाम... WHO कर रहा विचार, जानें वजह

दुनिया में तेजी से फैलते मंकीपॉक्स वायरस को कुछ वैज्ञानिकों के ‘स्टिगमाटाइजिंग’ कहे जाने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी अब महामारी का नाम बदलने का फैसला किया है। ‘न्यूयॉर्क पोस्ट’ ने बुधवार को अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी।

मंकीपॉक्स का नाम बदलने को लेकर WHO ने कही यह बात 

संगठन के प्रमुख टेड्रोस अधनोम घेब्रेसियस ने कहा, ‘‘विश्व स्वास्थ्य संगठन दुनिया भर के अपने सहयोगियों और विशेषज्ञों के साथ मंकीपॉक्स वायरस का नाम बदलने के काम में जुटा हुआ है। हम जितनी जल्दी हो सके नए नाम की घोषणा करेंगे।" दरअसल, 30 अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों से मिले एक पत्र के बाद डब्ल्यूएचओ ने यह कदम उठाया है। 

अफ्रीका से क्यों जोड़ा जा रहा मंकीपॉक्स वायरस? 

पत्र में नाम को तत्काल रूप से बदलने की आवश्यकता पर जोर दिया गया है। पत्र में लिखा गया,‘‘निरंतर बातचीत और मुद्दे पर लगातार विचार-विमर्श करने के बाद यह जरूरी समझा जा रहा है कि हम इसे भेदभाव रहित और गैर कलंकित नाम दें। ‘‘इसमें कहा गया, ‘‘वायरस का नाम बार-बार अफ्रीका से जोड़ा जा रहा है और इसका नामकरण अफ्रीकी पृष्ठभूमि की तर्ज पर होना बिल्कुल गलत है, यह भेदभाव और किसी को कलंकित करना दिखाता है। 

नामकरण कुछ ऐसा किया जाए जिससे नकारात्मक प्रभाव न पड़े

मीडिया में भी वायरस से संबंधित जितनी भी तस्वीरें हैं, उनमें से अधिकतर में अफ्रीकी नजर आ रहे हैं। हाल ही में अफ्रीका के फॉरेन प्रेस एसोसिएशन ने एक बयान जारी करके वैश्विक मीडिया से महामारी के लिए अफ्रीकी लोगों की तस्वीर के इस्तेमाल को बंद करने का आग्रह किया। वैज्ञानिकों का मानना है कि बीमारी का नामकरण कुछ ऐसा किया जाए जिससे किसी देश पर नकारात्मक प्रभाव न पड़े।