BREAKING NEWS

CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पास करेगा तेलंगाना◾शाहीन बाग में बड़ी संख्या में जुटे प्रदर्शनकारी, लेकिन आपसी मतभेद ज्यादा, प्रदर्शन कम◾PAK में गुतारेस की J&K पर की गई टिप्पणी के बाद भारत ने कहा - जम्मू कश्मीर देश का अभिन्न हिस्सा ◾मतभेदों को सुलझाने के लिए कमलनाथ और सिंधिया इस हफ्ते कर सकते है मुलाकात◾अमेरिका राष्ट्रपति की अहमदाबाद यात्रा से पहले AIMC ने जारी किये ‘नमस्ते ट्रंप’ वाले पोस्टर ◾इस साल राज्यसभा में विपक्षी ताकत होगी कम ◾23 फरवरी से 23 मार्च तक उनका दल चलाएगा देशव्यापी अभियान - गोपाल राय◾पश्चिम बंगाल में निर्माणाधीन पुल का गर्डर ढहने से दो की मौत, सात जख्मी ◾कच्चे तेल पर कोरोना वायरस का असर, और घट सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम◾बाबूलाल मरांडी सोमवार को BJP होंगे शामिल, कई वरिष्ठ भाजपा नेता समारोह में हो सकते हैं उपस्थित◾लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा , ट्रक और वैन में टक्कर के बाद लगी आग , 7 लोग जिंदा जले◾वित्त मंत्रालय ने व्यापार पर कोरोना वायरस के असर के आकलन के लिये मंगलवार को बुलायी बैठक ◾कोरोना वायरस मामले को लेकर भारतीय राजदूत ने कहा - चीन की हरसंभव मदद करेगा भारत◾NIA को मिली बड़ी कामयाबी : सीमा पार कारोबार के जरिए आतंकवाद के वित्तपोषण के मिले सबूत◾दिल्ली CM शपथ ग्रहण समारोह दिखे कई ‘‘लिटिल केजरीवाल’’◾TOP 20 NEWS 16 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में समर्थकों ने कहा : देश की राजनीति में बदलाव का होना चाहिए◾PM मोदी ने काशी महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर रवाना, जानिये इस ट्रेन की खासियतें ◾PM मोदी ने वाराणसी में 'काशी एक रूप अनेक' कार्यक्रम का किया शुभारंभ◾CAA को लेकर प्रधानमंत्री का बड़ा बयान, बोले-दबावों के बावजूद हम कायम हैं और रहेंगे◾

थर्ड पार्टी के जरिए ही भारत-पाक के बीच सुलह का एकमात्र विकल्प - कुरैशी

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक बार फिर पुराना राग अलापा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय वार्ता संभव नहीं है। थर्ड पार्टी के जरिए ही भारत-पाकिस्तान के बीच सुलह का एकमात्र विकल्प है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को कहा कि कश्मीर में स्थिति के कारण भारत और पाकिस्तान के बीच ‘‘अप्रत्याशित युद्ध’’ भड़कने का खतरा है। 

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बैशलेट से कश्मीर का दौरा करने की अपील की। कुरैशी ने जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के इतर संवाददाताओं से कहा कि उनका मानना है कि पाकिस्तान और भारत दोनों ‘‘संघर्ष के परिणामों को समझते’’ हैं। 

जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने के भारत सरकार के फैसले के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने के बीच कुरैशी ने कहा, ‘‘आप एक अप्रत्याशित युद्ध से इनकार नहीं कर सकते।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘यदि हालात ऐसे ही बने रहते हैं... तो कुछ भी संभव है।’’ कुरैशी ने मानवाधिकार परिषद से कश्मीर में हालात की अंतरराष्ट्रीय जांच शुरू करने की मंगलवार को अपील की थी। 

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने बैशलेट से बात की है और उनसे क्षेत्र के ‘‘भारतीय एवं पाकिस्तानी हिस्सों’’ का दौरा करने की अपील की है। 

कुरैशी ने कहा, ‘‘उन्हें दोनों स्थानों का दौरा करना चाहिए और निष्पक्षता से रिपोर्ट देनी चाहिए, ताकि दुनिया को पता चले कि असल हालात क्या हैं।’’ मंत्री ने कहा कि बैशलेट ने कहा था कि वह ‘‘यात्रा करने की इच्छुक’’ हैं। 

इस संबंध में पुष्टि के लिए बैशलेट के कार्यालय से तत्काल संपर्क नहीं हो पाया। 

इस बीच, कुरैशी ने तनाव कम करने के लिए द्विपक्षीय वार्ता की संभावना से इनकार किया। उन्होंने कहा, ‘‘यदि अमेरिका भूमिका निभाता है, तो यह महत्वपूर्ण हो सकता है क्योंकि उसका क्षेत्र में काफी प्रभाव है।