BREAKING NEWS

अगस्त में सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता संभालने के लिए पूरी तरह तैयार है भारत, आतंकवाद पर तेज होगा प्रहार◾अफगानिस्तान में UN पर तालिबान के हमले की गुटेरेस ने की निंदा, कहा- अंतर्राष्ट्रीय कानून के तहत यह प्रतिबंधित हैं◾जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के निशाने पर घाटी, राजौरी में डिफ्यूज किया गया IED◾कौन होगा JDU का नया अध्यक्ष? दिल्ली में आज की बैठक में नीतीश कुमार ले सकते हैं बड़ा फैसला◾टेरर फंडिंग और आतंक के मामले में प्रशासन सख्त, शोपियां में कई ठिकानों पर NIA ने मारा छापा◾पुलवामा एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर, सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में मारे गए दहशतगर्द◾देश में नहीं थम रहा कोरोना का आतंक, पिछले 24 घंटे में हुई 41,649 नए मामलों की पुष्टि ◾Tokyo Olympics: फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी भारतीय बनीं कमलप्रीत, डिस्कस थ्रो में किया धमाकेदार प्रदर्शन ◾World Corona Update : विश्व में कोरोना मामलों की संख्या हुई 19.72 करोड़, करीब 42 लाख लोगों ने गंवाई जान ◾PM मोदी आईपीएस प्रशिक्षुओं से आज करेंगे संवाद◾दिल्ली विधानसभा ने डॉक्टरों को भारत रत्न देने की केंद्र से अपील करते हुए पारित किया प्रस्ताव◾राजस्थान में कांग्रेस की चुनाव घोषणापत्र समिति की दूसरी बैठक शनिवार को◾कर्नाटक के CM बोम्मई ने अमित शाह और अन्य कई केंद्रीय मंत्रियों से की मुलाकात, कैबिनेट विस्तार पर की चर्चा◾कोरोना संकट : झारखंड सरकार ने दी बड़ी राहत, 9वीं के ऊपर के स्कूल-कॉलेज खुलेंगे, इंटर स्टेट बसें भी चलेंगी◾ED मामले में दंडात्मक कार्रवाई से संरक्षण के लिए पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की याचिका पर 3 अगस्त को सुनवाई◾मिजोरम-असम सीमा संघर्ष : 'भड़काऊ' टिप्पणियों के लिये असम पुलिस ने मिजोरम के सांसद को किया तलब ◾एलएसी गतिरोध को सुलझाने के लिए कल 12वें दौर की सैन्य स्तरीय वार्ता करेंगे भारत और चीन ◾प्रियंका का तंज - पीएम मोदी और सीएम योगी ने उप्र को कुपोषण में नंबर एक बना दिया◾पान मसाला मेकर ग्रुप के कानपुर सहित 31 ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का खुलासा◾राजस्थान के गंगानगर में किसानों ने भाजपा नेता से की हाथापाई, कपड़े फाड़े ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के नतीजे असरदार, 1000 लोगों पर हुआ था टेस्ट

लंदन: ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों का कहना है कि उनके प्रायोगिक कोरोना वायरस टीके ने शुरुआती परीक्षण में सैकड़ों लोगों में सुरक्षात्मक प्रतिरोधक प्रतिक्रिया उत्पन्न की है, जिन्हें यह टीका लगाया गया था। ब्रिटिश शोधकर्ताओं ने पहली बार अप्रैल में लगभग 1,000 लोगों में टीके का परीक्षण शुरू किया था, जिनमें से आधे लोगों को प्रायोगिक टीका लगाया गया था। इस तरह के शुरुआती परीक्षणों को आमतौर पर केवल सुरक्षा का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है, लेकिन इस मामले में विशेषज्ञ यह भी देखना चाह रहे थे कि इसकी किस तरह की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया होगी। 

‘लांसेट’ नामक पत्रिका में सोमवार को प्रकाशित शोध में, वैज्ञानिकों ने कहा कि उन्होंने पाया कि उनके प्रायोगिक कोविड-19 टीके ने 18 से 55 वर्ष की आयु के लोगों में दोहरी प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया उत्पन्न की है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में जेनर इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ. एड्रियन हिल ने कहा, ‘‘हम लगभग हर किसी में अच्छी प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया देख रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह टीका विशेष रूप से प्रतिरक्षा प्रणाली के दोनों दोनों पक्षों को मजबूत कर देता है।’’ 

हिल ने कहा कि एंटीबॉडी को निष्क्रिय करने से जो परमाणु उत्पन्न होते हैं जो संक्रमण को रोकने के लिए महत्वपूर्ण हैं। इसके अलावा, इस टीका से शरीर की टी-कोशिकाओं में एक प्रतिक्रिया होती है जो कोरोना वायरस से लड़ने में मदद करते हैं। उन्होंने कहा कि टीके की प्रभावशीलता का मूल्यांकन करने वाले बड़े परीक्षणों में ब्रिटेन के लगभग 10,000 लोगों के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील के प्रतिभागी शामिल हैं। ये परीक्षण अभी बड़े पैमाने पर जारी हैं। अमेरिका में जल्द ही एक और बड़ा परीक्षण शुरू होने वाली है, जिसमें लगभग 30,000 लोगों को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया है। 

टीके की प्रभावशीलता का निर्धारण वैज्ञानिक कितनी जल्दी कर पाते हैं, यह बहुत हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि वहाँ कितना अधिक परीक्षण होता है, लेकिन हिल ने अनुमान लगाया कि उनके पास यह सुनिश्चित करने के लिए वर्ष के अंत तक पर्याप्त डेटा हो सकता है कि क्या टीका को सामूहिक टीकाकरण अभियानों के लिए अपनाया जाना चाहिए। 

हिल ने कहा कि ऑक्सफोर्ड का टीका बीमारी और उसके प्रसार को कम करने के लिए बनाया गया है। ऑक्सफोर्ड ने वैश्विक स्तर पर अपने टीके के उत्पादन के लिए दवा निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका के साथ साझेदारी की है और कंपनी पहले ही दो अरब खुराक बनाने की प्रतिबद्धा जता चुकी है।

कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 40000 से अधिक नए मरीजों का रिकॉर्ड, 681 लोगों ने गंवाई जान