BREAKING NEWS

राजस्थान के शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान, बोले- लड़कियों को स्कूल में नहीं पढ़ा पाएंगे 50 साल से कम उम्र के पुरुष टीचर◾कमलेश तिवारी हत्याकांड की ATS ने 24 घंटे के भीतर सुलझायी गुत्थी, तीन षडयंत्रकर्ता गिरफ्तार◾FATF के फैसले पर बोले सेना प्रमुख- दबाव में पाकिस्तान, करनी पड़ेगी कार्रवाई◾हरियाणा विधानसभा चुनाव: भाजपा ने जवान, राफेल, अनुच्छेद 370 और वन रैंक पेंशन को क्यों बनाया मुद्दा?◾यूपी उपचुनाव: विपक्ष को कुछ सीटों पर उलटफेर की उम्मीद◾हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए आज थम जाएगा प्रचार, आखिरी दिन पर मोदी-शाह समेत कई दिग्गज मांगेंगे वोट◾INX मीडिया केस: इंद्राणी मुखर्जी का दावा- चिदंबरम और कार्ति को 50 लाख डॉलर दिए◾खट्टर बोले- प्रतिद्वंद्वियों ने पहले मुझे 'अनाड़ी' कहा, फिर 'खिलाड़ी' लेकिन मैं केवल एक सेवक हूं◾SC में बोले चिदंबरम- जेल में 43 दिन में दो बार पड़ा बीमार, पांच किलो वजन हुआ कम◾PM मोदी को श्रीकृष्ण आयोग की रिपोर्ट पर कार्रवाई करनी चाहिए : ओवैसी ◾हिन्दू समाज पार्टी के नेता की दिनदहाड़े हत्या : SIT करेगी जांच◾कमलेश तिवारी हत्याकांड : राजनाथ ने डीजीपी, डीएम से आरोपियों को तत्काल पकड़ने को कहा◾सपा-बसपा ने सत्ता को बनाया अराजकता और भ्रष्टाचार का पर्याय : CM योगी◾FBI के 10 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में भारत का भगोड़ा शामिल◾करतारपुर गलियारा : अमरिंदर सिंह ने 20 डॉलर का शुल्क न लेने की अपील की ◾प्रफुल्ल पटेल 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद ईडी कार्यालय से निकले ◾फडनवीस के नेतृत्व में फिर बनेगी गठबंधन सरकार : PM मोदी◾प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी के आसपास कोई भी नेता नहीं : सर्वेक्षण ◾मोदी का विपक्ष पर वार : कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकारों ने केवल घोटालों की उपज काटी है◾ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी, सूरत से निकला ये कनेक्शन◾

विदेश

ट्रंप ने की पेरिस जलवायु समझौते की निंदा, बताया-निष्प्रभावी

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन पर ऐसी निष्प्रभावी वैश्विक संधियां कर अमेरिकी ऊर्जा पर लगातार बोझ डालने का आरोप लगाया जिनसे दुनिया के सबसे अधिक प्रदूषणकारी देशों को अपने तरीके से काम करते रहने की इजाजत मिली। 

उनका बयान पर्यावरण संरक्षण एजेंसी के प्रशासक एंड्र्यू व्हीलर के इस दावे के बीच आया है कि जलवायु परिवर्तन पर ऐतिहासिक पेरिस समझौता अमेरिका के लिहाज से अनुचित है और भारत एवं चीन जैसे देशों को उससे लाभ मिलेगा। सालों से नेताओं ने अमेरिकी नागरिकों से कहा है कि मजबूत अर्थव्यवस्था एवं जीवंत ऊर्जा क्षेत्र का स्वस्थ पर्यावरण के साथ मेल नहीं है। 

ट्रंप ने ‘अमेरिका के पर्यावरण नेतृत्व’ विषयक व्हाइट हाउस के कार्यक्रम में अपने संबोधन में कहा, "लेकिन यह गलत है क्योंकि हम बिल्कुल उलट साबित कर रहे हैं।" उन्होंने कहा, "एक मजबूत अर्थव्यवस्था स्वस्थ पर्यावरण को बनाए रखने के लिए अहम है। जब हम नवोन्मेष करते हैं, उत्पादन करते हैं और आगे बढ़ते हैं तो हम ढेर सारी ऐसी प्रौद्योगिकियों और प्रक्रियाओं को ईजाद करते हैं जो अपने कारोबार को वापस लाने के साथ ही पर्यावरण को बेहतर बनाती हैं, सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप उत्पादन को विदेशी प्रदूषकों से लेकर अमेरिकी जमीन पर लाते हैं।" 

ट्रंप ने पिछले प्रशासन पर अमेरिकी ऊर्जा पर अनवरत बोझ डालने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, "हम वह नहीं कर सकते। उन्होंने हमारे श्रमिकों, हमारे उत्पादकों और हमारे विनिर्माताओं को ऐसी गैर असरकारी वैश्विक संधियों से दंडित करने का प्रयास किया जिन्होंने सबसे अधिक प्रदूषण फैलाने वाले देशों को अपने तरीके जारी रखने दिया।" 

राष्ट्रपति ने कहा, "अमेरिकियों को दंडित करना बेहतर पर्यावरण या बेहतर अर्थव्यवस्था बनाने का कभी सही तरीका नहीं है। हमने इस विफल पहल को नकार दिया है और हमें अतुल्य परिणाम नजर आ रहे हैं।"