BREAKING NEWS

देश को लॉकडाउन से बचाना है, राज्य लॉकडाउन को अंतिम विकल्प मने : PM मोदी ◾कोविड ने लगाया लालू यादव की रिहाई में अड़ंगा, जेल से बाहर आने के लिए करना होगा एक सप्ताह का इंतजार◾UP: पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 से 163 लोगों की गई जान, सामने आए 29754 नए मरीज ◾दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी, कुछ घंटों के लिए ही बची: अरविंद केजरीवाल◾मीडिया दिखा रही है लाशों के ढेर, आम लोगों के बीच के बीच फैल रही महामारी की दहशत: विजयवर्गीय ◾महाराष्ट्र में सख्त हुई कोविड पाबंदियां, दिन में चार घंटे ही खुलेंगी सभी दुकानें◾ममता ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, केंद्र की टीकाकरण नीति को ‘खोखला और अफसोसनाक दिखावा’ बताया◾PM ने छवि चमकाने के लिए विदेशों में बांटी वैक्सीन, अपने देश में भंडार खाली होने पर की बिक्री शुरू : ममता ◾कोरोना संक्रमण के नए मामलों के 77 फीसदी से ज्यादा केस 10 राज्यों से आए सामने ◾कोरोना की वजह से स्थगित हुई UGC-NET की परीक्षा, 15 दिन पहले होगा नई तारीखों का ऐलान◾कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए झारखंड में 22 अप्रैल से एक सप्ताह का लॉकडाउन ◾दिल्ली मेट्रो ने लॉकडाउन के लिए परिचालन योजना में फिर किया बदलाव, पीक आवर्स में होगा 15 मिनट का गैप ◾कोरोना से संक्रमित हुए राहुल गांधी, संपर्क में आए लोगों से की सावधानी बरतने की अपील◾दिल्ली में महामारी का कहर : अरविंद केजरीवाल की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, होम क्वारंटाइन में गए CM◾UP में वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान, शुक्रवार रात से लगातार 35 घंटे तक जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू◾राहुल समेत दिग्गज कांग्रेस नेताओं का आरोप - टीकाकरण को लेकर सरकार की रणनीति भेदभाव वाली◾केजरीवाल ने लोगों से की अपील, कहा- लॉकडाउन आपकी सुरक्षा के लिए लगाया गया, संक्रमण से बचकर रहें◾UP के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहबाद HC के फैसले पर SC ने लगाई रोक◾सिब्बल का वार-चुनाव जीतने के लिए PM अपनी सभी शक्तियों का कर रहे हैं प्रयोग लेकिन कोविड के लिए नहीं◾5 शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहाबाद HC के आदेश के खिलाफ SC पहुंची योगी सरकार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी बोले - ट्रंप के ट्विटर हैंडल पर लगा प्रतिबंध ‘जायज’ लेकिन ‘खतरनाक’

ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने लोकप्रिय माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का हैंडल स्थाई तौर पर बंद करने के कंपनी के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि यह ‘‘खतरनाक परंपरा है’’ और दिखाता है कि कंपनी अपने मंच पर ‘‘स्वस्थ और साफ संवाद को बढ़ावा देने में‘‘ असफल रही है। 

कंपनी के फैसले के बाद बुधवार को सिलसिलेवार ट्वीट के जरिए सीईओ डोर्सी ने यह प्रतिक्रिया दी। ट्विटर ने शुक्रवार को कहा कि ‘‘हिंसा और भड़कने के खतरे के मद्देनजर’’ ट्रंप को ट्विटर से स्थाई रूप से हटा दिया गया है। गौरतलब है कि इससे पहले अमेरिकी संसद भवन पर ट्रंप के समर्थकों के हमले में चार असैन्य नागरिकों और एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई थी। 

राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा 20 जनवरी को जो बाइडन के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होने की घोषणा ट्विटर पर किए जाने के बाद कैलिफोर्निया की मीडिया कंपनी ने अभूतपूर्व कदम उठाते हुए उनके हैंडल को स्थाई रूप से बंद कर दिया है। 

डोर्सी ने कहा, ‘‘रियलडोनाल्डट्रंप हैंडल पर ट्विटर पर प्रतिबंध लगाते हुए या जिस वजह से ऐसा करना पड़ रहा है, उसपर मुझे कोई बहुत अच्छा नहीं लगा रहा है या कोई गर्व महसूस नहीं हो रहा है। स्पष्ट चेतावनी के बाद हमने यह कार्रवाई की। हमने यह फैसला ट्विटर पर या उससे इतर शारीरिक सुरक्षा को खतरे से जुड़ी सूचनाओं के आधार पर किया। क्या यह सही था?’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि ट्विटर के लिए यह सही फैसला था। हमें अभूतपूर्व स्थिति का सामना करना पड़ा और हमने अपना पूरा ध्यान लोगों की सुरक्षा पर लगाया। ऑनलाइन टिप्पणी/बयान के कारण सामान्य जीवन में नुकसान पहुंचने की घटना हो सकती है, यह साबित हो चुका है और उससे भी ऊपर हमारी नीति सबसे महत्वपूर्ण है।’’ 

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव किया पारित