BREAKING NEWS

खट्टर ने केजरीवाल को लिया आड़े हाथ, कहा- जैन को नहीं हटाया तो... कोर्ट या फिर लोग हटा देंगे◾सांप्रदायिक आधार पर प्रचार कर रही BJP, देश को आगे ले जाने का नहीं है कोई विजन : खड़गे◾दहशत में राष्ट्रीय राजधानी, स्कूल को ईमेल से मिली बम की धमकी, जांच में जुटा प्रशासन ◾गोवा में ड्रग्स का कहर, भाजपा विधायक बोले- राज्य में नए तस्कर आ रहे हैं ◾गहलोत द्वारा पायलट को 'गद्दार' कहे जाने पर बोले राहुल-दोनों नेता कांग्रेस की संपत्ति◾पांडव नगर हत्याकांड : खून बहने के लिए गला काटकर छोड़ा शव, फिर किए 10 टुकड़े◾पश्चिम बंगाल : CM ममता बनर्जी कर सकती हैं दो नए जिलों की आधिकारिक घोषणा ◾Vijay Hazare Trophy: रुतुराज गायकवाड़ का धमाल, एक ओवर में सात छक्के जड़कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड◾CM अरविंद केजरीवाल ने किया दावा, कहा- गुजरात में मिल रहा है महिलाओं और युवाओं का भारी समर्थन ◾इस्लामिक कट्टरपंथियों का एजेंडा बेनकाब, महिला के जबरन धर्मांतरण की कोशिश के आरोप में 3 लोगों पर केस दर्ज◾Gujarat Polls: भाजपा को झटका! पूर्व मंत्री जयनारायण व्यास ने थामा कांग्रेस का दामन ◾चीन : राष्ट्रपति शी जिनपिंग की जीरो-कोविड नीति को लेकर हिंसक हुआ विरोध प्रदर्शन, 'आजादी-आजादी' के लगे नारे ◾Border dispute: सीएम बोम्मई जाएंगे दिल्ली, महाराष्ट्र सीमा विवाद पर नड्डा, शीर्ष अधिवक्ता से करेंगे मुलाकात◾गुजरात : कांग्रेस खेमे में गए BJP के पूर्व मंत्री, टिकट कटने से नाराज जयनारायण व्यास ने छोड़ी पार्टी◾लोकप्रिय लेखक चेतन भगत को आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद उर्फी जावेद ने लिया निशाने पर◾दिल्ली : मां-बेटे ने पिता की हत्या कर फ्रिज में रखा शव, नाले और रामलीला मैदान में फेंके टुकड़े◾मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद चली गई लोगों की आंखों की रोशनी, प्रशासन ने नेत्र शिविरों पर लगाई रोक◾कांग्रेस अध्यक्ष का PM मोदी पर हमला, कहा-‘लोग आपकी चाय तो पीते हैं, मेरी तो पीते ही नहीं’◾इटावा रेलवे स्टेशन पर उस वक़्त चौंक गए यात्री जब माइक से गूंजा 'डिंपल भाभी जिंदाबाद' का नारा◾FIFA विश्व कप में मोरक्को की जीत के बाद बेल्जियम और नीदरलैंड में भड़के दंगे, जगह-जगह हुई आगजनी ◾

UN ने दी जानकारी, इस देश में सालों से चल रहे संघर्ष में मरे या घायल हुए है 10 हजार से ज्यादा बच्चें

यूनिसेफ (संयुक्त राष्ट्र बाल कोष) जानकारी दी है कि यमन में करीब सात साल पहले से जारी संघर्ष के बाद से अब तक 10,200 बच्चे मारे गए या घायल हुए हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने यमन में यूनिसेफ के प्रतिनिधि फिलिप डुएमेले के हवाले से एक बयान में कहा, इस मामले में वास्तविक संख्या बहुत अधिक होने की संभावना है। डुएमेले ने कहा, वर्ष 2021 में संघर्ष के तेज होने के बाद इस साल हिंसा लगातार बढ़ रही है और हमेशा की तरह बच्चे सबसे पहले और सबसे ज्यादा पीड़ित हैं। उन्होंने कहा कि इस साल के पहले दो महीनों में यमन में कई स्थानों पर 47 बच्चे मारे गए या अपंग हो गए।

यमन दुनिया में अब तक के सबसे बड़े मानवीय संकटों में से एक है : यूनिसेफ   

बयान के अनुसार, यमन में लाखों बच्चों और परिवारों पर गंभीर परिणाम के साथ हिंसा, दुख और शोक आम बात हो गई है। यह उच्च समय है कि लोगों और उनके बच्चों के लिए एक स्थायी राजनीतिक समाधान किया जाए ताकि वे शांति से रह सकें। पिछले हफ्ते यूनिसेफ ने कहा कि लगभग 2.1 करोड़ लोगों, या यमन की कुल आबादी के लगभग 70 प्रतिशत को जीवन रक्षक मानवीय सहायता की आवश्यकता है। मानवीय एजेंसी ने कहा कि देश में पांच साल से कम उम्र के लगभग चार लाख बच्चे तीव्र कुपोषण से गंभीर कुपोषण की ओर जा रहे हैं। यूनिसेफ के अनुसार, यमन दुनिया में अब तक के सबसे बड़े मानवीय संकटों में से एक है। मार्च 2015 में गृह युद्ध के बढ़ने के बाद से दसियों हजार लोग मारे गए या 40 लाख विस्थापित हुए हैं, जबकि देश अकाल के कगार पर है।

जानिए कब शुरू हुआ युद्ध 

यूनिसेफ ने कहा कि 2022 में यमन में मानवीय संकट का जवाब देने के लिए उसे 48.44 करोड़ डॉलर की आवश्यकता है। युद्ध तब शुरू हुआ जब ईरान समर्थित हाउती मिलिशिया ने कई उत्तरी प्रांतों पर नियंत्रण कर लिया और सऊदी समर्थित यमनी सरकार को राष्ट्रपति अब्द-रब्बू मंसूर हादी को राजधानी सना से बाहर कर दिया। यमन एक गृहयुद्ध में फंस गया है क्योंकि हाउती मिलिशिया ने देश के अधिकांश हिस्से को सैन्य रूप से खत्म कर दिया और 2014 में राजधानी सना सहित सभी उत्तरी प्रांतों को जब्त कर लिया।