BREAKING NEWS

आज का राशिफल (12 अगस्त 2022)◾मुफ्त की सौगातें और कल्याणकारी योजनाएं भिन्न चीजें : SC◾राजीव गांधी हत्याकांड : दोषी नलिनी ने समय पूर्व रिहाई के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया◾PM मोदी ने वेंकैया नायडू की तुलना विनोबा भावे से की, कहा-आपकी ऊर्जा प्रभावित करती है◾बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, नौकरी में वृद्धि के संकल्प को दोहराया◾J&K के राजौरी में सेना के शिविर पर हमला : 3 जवान शहीद, 2 आतंकवादी मारे गये◾भारत चालू वित्त वर्ष में दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था होगा - सरकारी सूत्र◾महाराष्ट्र में कोरोना ने फिर दी दस्तक , 1,877 नए मामले आये सामने , 5 की मौत◾भाजपा ने AAP पर साधा निशाना , कहा - फेल हो गया है केजरीवाल का दिल्ली मॉडल◾जल्द CNG और PNG के दाम होंगे कम, सरकार ने शहर गैस वितरण कंपनियों को बढ़ाई आपूर्ति◾जातिगत जनगणना के बहाने ओमप्रकाश राजभर का नीतीश सरकार पर तंज- 'जल्द साबित करिये कि आप...' ◾'उपराष्ट्रपति बनने की इच्छा' BJP के आरोपों को CM नीतीश ने नकारा, बोले- 'जिसको जो बोलना है बोलते रहें'◾SCO Summit 2022: भारत-पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की होगी मुलाकात, 6 साल बाद दिखेगा ये नजारा◾गृहमंत्रालय की गाइड लाइन्स : 15 अगस्त के कार्यक्रमों में न बजें फ़िल्मी गाने , इन नियमों का हो पालन ◾सुशील मोदी पर भड़के सीएम नीतीश, पूर्व उपमुख्यमंत्री के दावों को बताया 'बकवास'◾मप्र: जेल में बंद भाइयों को राखी बांधने पहुंची बहनें , अनुमति न मिलने पर किया चक्काजाम◾महाराष्ट्र: एकनाथ शिंदे के 'मिनी कैबिनेट' में 75 फीसदी मंत्रियों के खिलाफ दर्ज अपराधिक मामले◾ गोवा सीएम का केजरीवाल पर पलटवार, बोले- स्कूल चलाने के लिए हमें सलाह की नहीं जरूरत ◾नीतीश को अवसरवादी बताने पर तेजस्वी का भाजपा पर तंज - जो बिकेगा उसे खरीद लो है इनकी नीति ◾प्रधानमंत्री ने पीएमओ में कार्यरत कर्मचारियों की बेटियों से बंधवाई राखी, देशवासियों को दी शुभकामनायें ◾

UN महासचिव ने दिया बयान, दुनियाभर में आतंकवाद के कारण मौतों की संख्या घटी, लेकिन अफ्रीका में बढ़ी

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि दुनिया भर में आतंकवादी हमलों में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या घटी है, लेकिन अफ्रीका में यह बढ़ रही है। यूएन महासचिव ने बुधवार को यूएन ग्लोबल काउंटर-टेररिज्म कोऑर्डिनेशन कॉम्पैक्ट की एक बैठक में कहा, पिछले साल वैश्विक स्तर पर आतंकवादी संगठनों के कारण हुई मौतों में 48 प्रतिशत मामले उप-सहारा अफ्रीका के थे। उन्होंने कहा कि अल-कायदा, इस्लामिक स्टेट (आईएस) और इनसे संबद्ध आतंकवादी संगठन साहेल में तेजी से फैल रहे हैं और मध्य तथा दक्षिणी अफ्रीका में जगह बना रहे हैं।
यूएन प्रमुख ने कहा कि आतंकवादी संगठन देश में शीर्ष नेतृत्व के न होने, वहां लंबे समय से चल रहे अंतर जातीय संघर्ष और आंतरिक कमजोरियों का लाभ उठाते हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कांगो, लीबिया और सोमालिया जैसे संघर्ष प्रभावित देशों में आतंकवाद ने हिंसा और अस्थिरता को बढ़ाने के साथ ही शांति प्रयासों को कमजोर कर दिया है। महासचिव ने कहा कि, आतंकवादी संगठन मोजाम्बिक और तंजानिया जैसे शांतिपूर्ण देशों में भी सरकार के प्रति लोगों के भरोसे को खत्म करने तथा समाज की शिकायतों को भी भुनाने में लगे हैं। उन्होंने नाइजीरिया के बोर्नो प्रांत के प्रति सकारात्मक बयान देते हुए कहा कि एक समय आतंकवादी संगठन बोको हराम का गढ़ रहने वाला यह राज्य अब सुलह और एकीकरण की राह पर है।

गुटेरेस ने कहा, मैं वहां अपने जीवन को फिर से शुरू करने के लिए उत्सुक लोगों से मिला। इसमें वे बच्चे भी शामिल हैं, जो कभी बोको हराम से जुड़े थे। महिलायें हिंसा और भेदभाव के दुष्चक्र को समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि, नाइजीरियाई सरकार की रणनीति लोगों के भरोसे को फिर से कायम करने की है ताकि वे बोको हराम से न जुडें। उन्होंने कहा कि बोको हराम के कई लड़ाके भी अब फिर से समाज का हिस्सा बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि, लोगों ने खुद बोको हराम को कमजोर कर दिया है। महासचिव ने कहा कि, जब तक आंतकवाद के पनपने के अनुकूल माहौल को खत्म नहीं किया जाता है, तब तक आतंकवाद के प्रसार को रोका नहीं जा सकता है। कमजोर संस्थायें, असमानतायें, गरीबी, भूख और अन्याय आतंकवाद तथा हिंसक विरोध को जगह देती हैं।

महासचिव ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र की आतंकवाद विरोधी रणनीति के लिए एक एकीकृत और समग्र दृष्टिकोण आवश्यक है। उन्होंने स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा, लैंगिक समानता और सभी के लिए सुलभ न्याय प्रणाली में निवेश करने और सही मायने में लोकतांत्रिक व्यवस्था और प्रक्रियाओं का निर्माण करने का आह्वान किया ताकि प्रत्येक व्यक्ति अपने समुदायों और देशों के भविष्य का निर्णय लेने में अपना विचार प्रस्तुत कर सके। यूएन ग्लोबल काउंटर-टेररिज्म कोऑर्डिनेशन कॉम्पैक्ट संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और सदस्य देशों को आतंकवाद के खिलाफ एक मंच पर लाता है।