BREAKING NEWS

CM योगी ने कहा- मिशन शक्ति कार्यक्रम बना मिसाल,अनेक राज्यों में भी मिली मान्यता ◾PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा- भारत ने सबसे तेज गति से 5-G मोबाइल प्रौद्योगिकी शुरू की ◾आबकारी नीति : Money Laundering मामले में Manish Sisodia को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल ◾ कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई का बड़ा दावा, कहा- 'कर्नाटक के सीएम के रूप में फिर से करुंगा वापसी' ◾UAPA के तहत वर्ष 2022, 2023 के दौरान 23 व्यक्तियों को आतंकवादी घोषित किया गया : सरकार◾लोकसभा स्पीकर ओम बिरला के भाई की कार का एक्सीडेंट, अस्पताल में भर्ती ◾सरकार अगले दो वर्षों में राष्ट्रीय राजधानी से सभी तीन Landfill Sites को हटाने की बना रही है योजना : कैलाश गहलोत◾दिल्ली विधानसभा का मौजूदा सत्र 27 मार्च तक बढ़ाया गया, ये है वजह ◾Bihar News: CM नीतीश कुमार को फोन पर मिली थी जान से मारने की धमकी, सूरत से शख्स को किया गिरफ्तार ◾ कर्नाटक के सीएम बोम्मई ने किया दावा- सत्ता में मुख्यमंत्री के रूप में फिर से लौटूंगा◾यूपी: छात्रा से छेड़खानी को लेकर दो पक्षों में संघर्ष, आरोपी युवक की तालाब में डूबने से मौत, गर्माया माहौल ◾अडानी के मुद्दे पर कांग्रेस का PM मोदी से 100वां सवाल- हम सौदा करने के लिए तैयार नहीं◾SC की कमेटी होगी "क्लीन चिट कमेटी", JPC पर कोई 'डील' नहीं : कांग्रेस◾बंगाल में DA की मांग को लेकर 30 मार्च को सामूहिक अवकाश पर जाएंगे सरकारी कर्मचारी◾दिल्ली बजट में राज्य के लोगों को बड़ी सौगात, 'बनेंगे 3 डबल डेकर फ्लाईओवर' ◾इंदौर के इंडेक्स हॉस्पिटल को आयुष्मान योजना से किया निलंबित◾ पाकिस्तान के PTI नेता आतिफ मुनसिफ खान की कार पर रॉकेट से हमला, 10 की मौत, 2 घायल ◾Kangana Ranaut ने फिर लिया Diljit Dosanjh से पंगा, बोलीं- गिरफ़्तारी का अगला नंबर तुम्हारा है....◾NTCA ने राज्य को दिए निर्देश,पर्यटकों के लिए सप्ताह में एक दिन बंद रहेगा टाइगर रिजर्व◾Bilkis Bano Case: सुप्रीम कोर्ट बिल्कीस बानो की याचिका पर सुनवाई के लिए विशेष पीठ का गठन करने को तैयार◾

यूक्रेन युद्ध पर UN के महासचिव ने दिया बयान, हम कर रहे हैं तूफान का सामना, लोगों को नहीं मिल रहा स्वस्थ आहार

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध को 50 दिन हो चुकें हैं इस बीच संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि इस युद्ध ने अनेक विकासशील देशों की अर्थव्यवस्था के लिए तबाही का खतरा पैदा कर दिया है। ये देश पहले ही खाद्यान्न और ईंधन की बढ़ती कीमतों का सामना कर रहे हैं साथ ही जटिल आर्थिक हालात से जूझ रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र कार्य बल ने बुधवार को यह चेतावनी दी। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने एक रिपोर्ट जारी की और कहा कि युद्ध गरीब देशों में भोजन, ईंधन तथा आर्थिक संकट को और गहरा कर रहा है। ये देश पहले से ही महामारी, जलवायु परिवर्तन और आर्थिक सुधार के लिए धन की कमी से निपटने में संघर्ष कर रहे हैं।
हम अब एक तूफान का सामना का रहे हैं : गुटेरेस
गुटेरेस ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, हम अब एक तूफान का सामना कर रहे हैं जो कई विकासशील देशों की अर्थव्यवस्थाओं को तबाह करने की चेतावनी देता है। लगभग 1.7 अरब लोग अब भोजन, ऊर्जा और वित्त प्रणालियों में संकट की जद में आने के करीब हैं। इनमें से एक तिहाई लोग पहले ही गरीबी में जी रहे हैं। व्यापार और विकास को बढ़ावा देने वाली संयुक्त राष्ट्र एजेंसी की महासचिव रेबेका ग्रिनस्पैन ने कहा कि ये लोग 107 देशों में रहते हैं,जिनके किसी न किसी संकट की जद में आने का काफी जोखिम है।
स्वस्थ आहार नहीं ले पा रहे है लोग
रिपोर्ट के अनुसार, इन देशों में लोग स्वस्थ आहार नहीं ले पा रहे हैं, भोजन और ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए आयात आवश्यक है, लेकिन कर्ज का बोझ और सीमित संसाधन अनेक वैश्विक वित्तीय स्थितियों से निपटने की सरकार की क्षमता को सीमित करते हैं।