BREAKING NEWS

मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाया, आसमान छू रही महंगाई पर जताई चिंता◾ Tamil Nadu: चेन्नई पहुंचे PM मोदी ,हुआ जोरदार स्वागत, रोड शो में उमड़ी हजारों की भीड़◾तेलंगाना के CM चंद्रशेखर राव ने एच डी देवेगौड़ा से की मुलाकात, जानें- किन मुद्दों पर हुई चर्चा◾J&K News: सुंजवां हमले में शामिल एक आतंकवादी को NIA ने किया गिरफ्तार, जैश ए मोहम्मद से जुड़े थे तार◾Monkeypox Virus: कनाडा में मंकीपॉक्स ने दी दस्तक! यहां देखें- कितने मामले सामने आए◾यासीन मलिक को उम्रकैद की सजा सुनाने के बाद फेंके थे पत्थर, लेकिन अब पुलिस के सामने पकड़े कान◾सुप्रीम कोर्ट ने वेश्यावृत्ति को माना प्रोफेशन, पुलिस को दी हिदायत... जारी हुए सख्त निर्देश, जानें क्या कहा ◾ गवर्नर की जगह अब CM होंगी स्टेट यूनिवर्सिटी की चांसलर, ममता बनर्जी कैबिनेट की बैठक में हुआ फैसला◾नवजोत सिंह सिद्धू का पटियाला जेल में बज गया बैंड, मिला क्लर्क का काम, जानें कितना होगा वेतन ◾ Gyanvapi Masjid: यहां जानें 2 घंटे चली वाराणसी जिला कोर्ट की बहस में क्या हुआ, अब सोमवार तक टली सुनवाई◾पाकिस्तान को 'मॉडर्न देश' बनाना चाहते हैं जरदारी! भारत और अन्य देशों से जारी संघर्षों पर कही यह बात ◾Bharat Biotech की कोवैक्सीन को जर्मनी ने दी मंजूरी, टूरिस्ट को मिली बड़ी राहत◾ US और चीन को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दिया ये बयान, जानें मोदी सरकार को क्या दी नसीहत◾UP बजट 2022 : मायावती ने बताया घिसा-पिटा, अखिलेश बोले- कुछ बढ़ा नहीं, सब कुछ घटा है◾Navneet Rana News: सांसद नवनीत राणा ने दर्ज करवाई FIR, फोन पर मिल रही थी जान से मारने की धमकी ◾पूर्व मंत्री ने पूछा, क्या पाठ्यपुस्तकों में जिन्ना का पाठ किया जाए शामिल? हेडगेवार को लेकर कही यह बात ◾BJP के 8 वर्ष पुरे होने पर सुरजेवाला ने बोला हमला, कहा- अहंकारी सत्ता में डायन महंगाई बन गई है घर जमाई◾ तेलंगाना के हैदराबाद में पीएम मोदी की हुंकार ,बोले- युवाओं से मौके छीन लेता है परिवारवाद....◾केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही BJP, शिवसेना बोली- परब के खिलाफ ED की छापेमारी....◾सरकार ने वाहनों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के दामों में किया इजाफा, जानिए कब से लागू होंगे नए रेट ◾

US : व्हाइट हाउस में जो बाइडन कार्यकाल के पहले Christmas पर पड़ा कोरोना का असर, फीकी रही रौनक

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी और उसके नए स्वरूप ओमीक्रोन के बढ़ते खतरे के मद्देनजर, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के कार्यकाल के पहले क्रिसमस पर व्हाइट हाउस में कोई बड़ा आयोजन नहीं किया गया।

कोरोना वायरस की मार पड़ने से पहले तक क्रिसमस के अवसर पर व्हाइट हाउस में बड़े पैमाने पर समारोह आयोजित किए जाते थे और बड़ी संख्या में लोग इनमें शामिल हुआ करते थे। इस दौरान विभिन्न प्रकार के व्यंजन और पेय पदार्थों से मेहमानों का स्वागत किया जाता था। राष्ट्रपति और प्रथम महिला दिसंबर की कई शामों पर पार्टी आयोजित करते थे। कभी-कभी तो वे दिन में दो बार पार्टी आयोजित करते थे, लेकिन इस बार राष्ट्रपति बाइडन और प्रथम महिला जिल बाइडन ने कोई बड़ा समारोह आयोजित करने और मेजों को व्यंजनों से सजाने के बजाय भोजन की व्यवस्था के बिना ‘ओपन हाउस’ आयोजित करने का फैसला किया। इस दौरान मेहमानों के लिए मास्क लगाना और टीकाकरण नहीं कराए लोगों के लिए कोविड-19 संबंधी जांच कराना अनिवार्य है।

बाइडन ने ‘ओपन हाउस’ के लिए केवल 100-100 लोगों के समूहों को आमंत्रित किया 

देश के पूर्व उपराष्ट्रपति अल गोरे के सामाजिक सचिव रहे फिलिप डुफॉर ने कहा, ‘‘उनके लिए यह निर्णय बहुत मुश्किल है।’’ उन्होंने कहा कि कई समारोह आयोजित नहीं किए गए और कुछ कार्यक्रमों का आयोजन ‘जूम’ के जरिए किया गया।बाइडन ने ‘ओपन हाउस’ के लिए केवल 100-100 लोगों के समूहों को आमंत्रित किया और उन्हें सजावट देखने के लिए आमतौर पर दिए जाने वाले दो घंटे के बजाय आधे घंटे का समय दिया गया। इस दौरान भोजन और पेय पदार्थ नहीं परोसे गए।

पूर्व PM अटल की जयंती आज, 'अटल समाधि' पर जाकर राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने दी श्रद्धांजलि