BREAKING NEWS

चुनाव आयोग ने 12 राज्यों की 57 सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, 10 नवंबर को नतीजे◾एनसीबी का बड़ा बयान- ड्रग्स लेने के दौरान सुशांत को रिया ने दिया बढ़ावा◾‘नमामि गंगे’ मिशन के तहत PM मोदी ने उत्तराखंड में 6 बड़ी परियोजनाओं का किया उद्घाटन◾कृषि बिल पर राहुल ने की किसानों से बातचीत, कहा- नए कानून से अन्नदाता बन जाएंगे मजदूर◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर विपक्ष का योगी सरकार पर हमला, कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल◾देश में एक दिन में कोरोना के 70 हजार नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिव केस 61 लाख के पार◾ विश्व में कोरोना वायरस का कहर तेज, पॉजिटिव केस 3 करोड़ 32 लाख के पार ◾उत्तर प्रदेश : हाथरस में सामूहिक बलात्कार पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत◾TOP 5 NEWS 29 SEPTEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾ अमेरिका में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 71 लाख से अधिक, ये प्रांत बुरी तरह प्रभावित ◾J&K के पुंछ में पाकिस्तान ने LOC पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया, सेना ने दिया मुहतोड़ जवाब◾आज का राशिफल (29 सितम्बर 2020)◾MI vs RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की मुंबई इंडियन्स पर सुपर ओवर में रोमांचक जीत◾सुशांत केस: AIIMS ने सीबीआई को सौंपी रिपोर्ट, जांच की रफ्तार होगी तेज◾पत्नी से मारपीट का वीडियो वायरल : पुलिस अधिकारी पदमुक्त, सरकार ने जारी किया 'कारण बताओ नोटिस'◾कोविड-19 को लेकर बोली दिल्ली सरकार - दिल्ली में शुरू हो चुका है कोरोना का डाउनट्रेंड◾शिरोमणि अकाली दल ने किया ऐलान - दिल्ली में बीजेपी गठबंधन के सभी पद छोड़ेगा अकाली दल◾अमित शाह ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विभिन्न मुद्दों पर स्थिति की समीक्षा की◾महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम बरकरार, बीते 24 घंटे में 11,921 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 13.51 लाख के पार ◾IPL-13: डिविलियर्स-फिंच का तूफानी अर्धशतक, बेंगलोर ने मुंबई को दिया 202 रनों का लक्ष्य ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के भारत दौरे से दोनों देशों के रिश्तों को मजबूती मिलेगी - भारतीय राजदूत संधू

अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा है कि भारत और अमेरिका के बीच साझेदारी की प्रक्रिया जारी है और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की इस महीने के आखिर में होने वाले भारत के दौरे से सभी क्षेत्रों में दोनों देशों की साझेदारी को मजबूती मिलेगी। 

श्री संधू ने अमेरिका-भारत व्यापार परिषद और व्यापार समर्थक समूह द्वारा अपने सम्मान में आयोजित किये गये कार्यक्रम में कहा कि मौजूदा समय में भारत और अमेरिका के संबंधों के लिए जबरजस्त अवसर है और आने वाले दिनों में दोनों देश परस्पर साझेदारी को जारी रखना चाहते हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘भारत और अमेरिका की साझेदारी प्रगाढ़ है तथा इसे और मजबूत करने के लिए काम किया जा रहा है। राष्ट्रपति ट्रम्प के भारत दौरे से सभी क्षेत्रों में दोनों देशों की साझेदारी मजबूत होगी।’’ 

उल्लेखनीय है कि श्री ट्रम्प प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निमंत्रण पर 24 फरवरी से दो दिवसीय भारत के दौरे पर रहेंगे। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने 2024 तक भारतीय अर्थ व्यवस्था को 50 खरब डॉलर करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया है। और अमेरिका उस लक्ष्य को हासिल करने में एक पसंदीदा साझेदार है। 

भारत और अमेरिका के बीच व्यापार में 10 प्रतिशत की दर से बढ़तरी हुई है और वर्ष 2019 में 16 करोड़ डॉलर का हो गया था। वहीं दोनों ओर से होने वाला विनिवेश वर्ष 2018 में छह करोड़ डॉलर का था। 

दो सौ से अधिक भारतीय कंपनीय में अमेरिका में एक करोड़ 80 लाख डॉलर का निवेश किया है। वहीं दो सौ से अधिक अमेरिकी कंपनी इस समय भारत में व्यापार कर रही हैं। 

श्री संधू ने कहा कि रक्षा और ऊर्जा के क्षेत्र में भागीदारी द्विपक्षीय संबंधों के लिए गेम चेंजर है, जिसे सबसे परिवर्तनकारी रिश्ते के रूप में देखा जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच रक्षा क्षेत्र में लगभग एक करोड़ 80 लाख डॉलर की साझेदारी है और इसमें और बढ़तरी होने की उम्मीद है। वर्ष 2016 में अमेरिका ने भारत के एक बड़ रक्षा साझेदार के दौर मान्यता दी और सहयोग को बढ़ने के लिए द्वार खोल दिया।

श्री संधू ने कहा कि लॉजिस्टिक एक्सचेंज मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट (एलईएमओए) तथा संचार अनुकुलता एवं सुरक्षा समझौतों पर हस्ताक्षर करके दोनों देशों ने दिसंबर 2019 में द्विपक्षीय वार्ता के दौरान अधिक से अधिक सहयोग बढ़ने के लिए एक सक्षम ढांचा तैयार किया। हमने औद्योगिक सुरक्षा के क्षेत्र में समझौता करने की घोषणा की है। 

उन्होंने कहा, ‘‘रक्षा क्षेत्र में व्यापार के लिए बहुत अवसर है। ऊर्जा क्षेत्र में गत वर्ष दोनों देशों के बीच व्यापार 80 लाख डॉलर पहुंच गया था। वर्ष 2017 में दोनों देशों ने ऊर्जा साझेदारी को एक रणनीतिक भागीदारी में तब्दील करने के लिए कदम उठाया।’’ 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2016 में अमेरिका कांग्रेस (संसद) के संयुक्त सत्र को संबोधित किया था और कहा था कि भारत-अमेरिका के संबंध को भविष्य के लिए एक महत्वपूर्ण प्राथमिकता दी गई है, क्योंकि दोनों देशों ने इतिहास के संकोच को दूर किया है। 

श्री संधू ने कहा, ‘‘ हमने देखा है कि इसके बाद हमारे संबंध एक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी के रूप में तब्दील हुए हैं। हम कई क्षेत्रों जैसे आतंकवाद का मुकाबला, रक्षा भारत-प्रशांत, विज्ञान, तकनीक, व्यापार और निवेश के क्षेत्र में समन्वय और सह-संचालन कर रहे हैं।