BREAKING NEWS

कोरोना वायरस से निपटने के लिए PM मोदी की माता जी ने दिए 25 हजार रुपये◾Covid-19 को लेकर प्रियंका का ट्वीट , कहा - कांग्रेस सरकारों का इंतजाम शानदार ◾गृह मंत्रालय का बयान - इस साल तबलीगी गतिविधियों के लिये 2100 विदेशी भारत आए◾कोविड-19 के देशभर मे फैलने की आशंका, निजामुद्दीन से जुड़े संदिग्ध मामलों की देशभर में तलाश शुरू◾ITBP के जवानों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए पीएम राहत कोष में दिया एक दिन का वेतन ◾सरकार ने विदेशी तब्लीगी कार्यकर्ताओं को पर्यटन वीजा देने पर लगाई रोक ◾Covid 19 का कहर जारी : देश में कोरोना के 227 नये मामले आये सामने, पिछले 24 घंटों में तीन और मौतें◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 82 नए मामले आये सामने , मरीज़ों की तादाद 300 के पार◾निजामुद्दीन मुद्दे पर योगी सरकार एक्शन में ,तबलीगी जमात के 157 लोगों में से 95 प्रतिशत की हुई पहचान ◾तिब्बती धर्म गुरु दलाई लामा ने भी प्रधानमंत्री राहत कोष में दी सहायता राशि, PM को पत्र लिख कर दिया समर्थन ◾कोरोना का कहर : यूपी में संक्रमितों की संख्या 100 के पार, नोएडा में सबसे अधिक पॉजिटिव मरीज◾कोरोना तबाही : दुनियाभर में सख्ती से लॉकडाउन लागू, मरने वालों का आंकड़ा 39 हजार के पार ◾निजामुद्दीन मरकज मामले में प्रबंधन के खिलाफ FIR दर्ज, जांच के लिए मामला अपराध शाखा को सौंपा गया ◾मरकज पर CM केजरीवाल ने दिखाई सख्ती, कहा- लापरवाही होने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा◾निजामुद्दीन मरकज मामले में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- यह समय कमियां खोजने का नहीं बल्कि कार्रवाई करने का है◾कोरोना वायरस : मध्य प्रदेश में 17 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों की संख्या 64 हुई◾दिल्ली : मोहल्ला क्लिनिक के एक और डॉक्टर में कोरोना संक्रमण की पुष्टि, प्रशासन ने चस्पा किए नोटिस◾प्रवासी मजदूरों के पलायन पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को कमेटी बनाने का दिया निर्देश◾तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होने वाले विदेशियों के वीजा में मंत्रालय ने पाई गड़बड़ियां◾तबलीगी जमात के मरकज में आए 24 लोगों में कोरोना की पुष्टि, 1500 से 1700 लोग हुए थे शामिल◾

अमेरिका ने 7 समूहों, 2 लोगों को डाला वैश्विक आतंकवादी सूची में

अमेरिकी विदेश विभाग ने मंगलवार को बताया कि उन्होंने इस्लामिक स्टेट से संबद्ध दो समूहों और दो लोगों को विशेष रूप से नामित आतंकवादी (एसडीजीटी) घोषित किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, इन सात समूहों में से तीन आईएस-पश्चिम अफ्रीका, आईएस-फिलीपींस, आईएस-बांग्लादेश को विदेशी आतंकवादी संगठन (एफटीओ) घोषित किया गया है।

अमेरिकी लोगों के आमतौर पर इन समूहों के साथ लेनदेन पर प्रतिबंध रहता है और इनकी संपत्तियों को फ्रीज कर दिया जाता है। इसके अलावा जानबूझकर इन समूहों की किसी भी तरीके से मदद करना या किसी तरह का षडयंत्र रचना अपराध है।

इन अलावा चार समूह आईएस-सोमालिया, जुंद अल-खलीफा-ट्यूनिशिया, आई-मिस्र और मॉते समूह है। इसके साथ ही जिन दो लोगों को वैश्विक आतंकवादी सूची में डाला गया है, वे महदा मोआलिम और अबू मुसाब अल-बरनावी है।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।