BREAKING NEWS

आज का राशिफल (09 दिसंबर 2022)◾गुजरात विजय पर बोले असम के सीएम शर्मा- यह तो ट्रेलर है... असली पिक्चर 2024 के लोकसभा चुनाव में दिखाएंगे◾ओडिशा उपचुनाव सीट पर बीजेपी की हार, बीजद उम्मीदवार ने भारी मतों से जीत की हासिल◾सोने की चमक में उछाल, दर्ज की गई 211 की बढ़ोत्तरी, चांदी इतने रूपए के साथ फिसली◾गुजरात में बजा 'मोदी' का डंका, जीत को लेकर जनता का आभार प्रकट किया, हिमाचल पर भी कही यह बड़ी बात◾गुजरात में 'BJP' की प्रचंड जीत, राज्य में चल पड़ा 'घर-घर मोदी' नड्डा ने कहा: भाजपा की ऐतिहासिक विजय◾खतौली सीट पर फैल हुई BJP की रणनीति, रालोद प्रत्याशी मदन भैया ने भाजपा को इतने वोटों से पछाड़ा, देखें पूरा समीकरण ◾रामपुर पर 'BJP' ने रचा इतिहास, 26 साल के चक्रव्यूह को तोड़कर एक नए युग की शुरूआत, इतने भारी मतों से हारी 'सपा'◾खतौली सीट पर फेल हुई BJP की रणनीति, रालोद प्रत्याशी मदन भैया ने भाजपा को इतने वोटों से पछाड़ा, देखें पूरा समीकरण ◾गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद भूपेंद्र पटेल फिर से संभालेंगे मुख्यमंत्री पद, 12 दिसंबर को लेंगे शपथ ◾HP: 'मोदी लहर' में फेल हुए 'जयराम ठाकुर', कहा- मैं जनादेश का करता हूं सम्मान...राज्यपाल को सौंप रहा हूं इस्तीफा ◾ संजय सिंह ने कहा- 10 साल में राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल किया, गुजरात के लोगों के शुक्रगुजार हैं ◾Gujarat Election: EVM में गड़बड़ी का आरोप लगाकर कांग्रेस प्रत्याशी भरत सोलंकी ने की आत्महत्या की कोशिश◾गुजरात चुनाव : AAP के मुख्यमंत्री पद के चेहरे इसुदान गढ़वी की हार, भाजपा को 18,000 मतों से मिली शिकस्त ◾मोदी गढ़ में फिर 'डबल इंजन' सरकार, शाह ने कहा- गुजरात की जनता ने 'फ्री की रेवड़ी' और 'खोखले वादों' को नकारा◾Gujarat: 'कमल' की जीत पर बोले पवार- गुजरात में चल गया 'मोदी मेजिक'... लेकिन 2024 में नहीं चलेगा ◾Tata स्टील को सुप्रीम कोर्ट से लगा बड़ा झटका, जानिए 35000 करोड़ का क्या है मामला◾Mainpuri: डिंपल यादव ने किया बड़ा फेर- बदल, जीत दर्ज कर ले गई लोकसभा सीट◾अखिलेश यादव ने शिवपाल को दिया समाजवादी पार्टी का झंडा, सपा में प्रसपा के विलय की तेज हुई अटकलें ◾'भारत जोड़ो यात्रा' पहुंचेगी पश्चिम बंगाल में..., राहुल औऱ प्रियंका निभाएंगे अहम भूमिका, जानें पूरी रणनीति◾

शी जिनपिंग ने कहा- बाहरी ताकतों को खुद को अस्थिर करने का मौका न दें एससीओ के सदस्य देश

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शुक्रवार को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों से कहा कि वे बाहरी ताकतों को “सरकार विरोधी आंदोलनों” के जरिए उन्हें अस्थिर करने से रोकें।

उन्होंने सामरिक स्वतंत्रता बरकरार रखने, सुरक्षा सहयोग को लेकर आम सहमति बनाने और आतंकवाद रोधी सहयोग बढ़ाने की अपील की।शी ने उज्बेकिस्तान के समरकंद शहर में एससीओ के 22वें सम्मेलन को संबोधित करते हुए समूह के सदस्य देशों से कहा कि वे संगठन को सही रास्ते पर ले जाएं, विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को प्रगाढ़ बनाएं और विकास के लिए अनुकूल वातावरण को बढ़ावा देते रहें।

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग अमेरिकी व्यापार अधिकारियों से करेंगे मुलाकात -  china president xi jinping will meet with us business executives

चीनी विदेश मंत्रालय द्वारा जारी भाषण के अनुसार शी ने कहा कि सदस्य देशों को राजनीतिक विश्वास कायम करना चाहिए। आपसी हितों व प्रमुख चिंताओं से संबंधित मामलों पर एक-दूसरे का समर्थन करना जारी रखना चाहिए। साथ ही एक-दूसरे के विकास के लिए मजबूत समर्थन देना चाहिए।उन्होंने चीन और रूस से टकराव के बीच क्षेत्र में अमेरिका के बढ़ते दबाव की ओर इशारा करते हुए सदस्य देशों से “सामरिक स्वतंत्रता बनाए रखने व स्थानीय स्थिरता की रक्षा” करने के लिए कहा।

उन्होंने कहा, “सदस्य देशों को आम, व्यापक, सहकारी और टिकाऊ सुरक्षा के दृष्टिकोण की वकालत करने और क्षेत्रीय टकराव पैदा करने और स्थिरता को नुकसान पहुंचाने के किसी भी प्रयास को अस्वीकार करने की आवश्यकता है।”

शी ने उन प्रदर्शनों की ओर इशारा किया, जिनकी वजह पूर्व सोवियत संघ और मध्य पूर्व के कई देशों में सरकारें गिर गईं।

शी ने कहा, “हमें बाहरी ताकतों को सरकार विरोधी आंदोलन खड़े करने से रोकना चाहिए।”

उन्होंने स्थानीय आतंकवाद रोधी प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की भी सलाह दी।एससीओ की शुरुआत जून, 2001 में शंघाई में हुई थी। इसके आठ पूर्ण सदस्य हैं, जिनमें छह संस्थापक सदस्य चीन, कजाखस्तान, किर्गिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान शामिल हैं। भारत और पाकिस्तान इसमें 2017 में पूर्ण सदस्य के रूप में शामिल हुए थे।