बांग्लादेश भूस्खलन में सैनिक सहित 144 की मौत


ढाका : भारत के पडोसी देश बांग्लादेश के दक्षिण पूर्वी पहाड़ी जिलों मे पिछले दो दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश होने के कारण भारी तबाही हुई है। बारिश की वजह से भूस्खलन में अब तक कम से कम 144 लोगों की मौत हो चुकी है तथा सैंकड़ों घरों को नुकसान पहुंचा है। मारे गए लोगों में सेना के कई जवान भी शामिल हैं। पीएम मोदी ने भी बांग्लादेश को हर संभव मदद का एलान किया है।

अधिकारियों के मुताबिक रात होने की वजह से तबाही और ज्यादा हुई। अधिकारियों ने कहा कि भूस्खलन के वक्त ज्यादातर लोग सोए हुए थे जिससे अधिक जनहानि हुई। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक बारिश और भूस्खलन से चिटगोंग, बांद्रावन और रंगामाटी जिलों में सबसे अधिक लोगो की मृत्यु हुई है। आपदा प्रबंधन मंत्रालय प्रमुख रियाज अहमद ने बताया कि रंगामाटी जिले में सबसे ज्यादा जनहानि की रिपोर्टे मिली है, जहां अब तक 108 से अधिक लोगों के शव बरामद किए गए है ।

                                                                                            Source

दूसरी तरफ चिटगोंग में 30 और बांद्रावन में 6 लोगों के शव बरामद हुए हैं। मृतकों में सेना के 2 अधिकारी और 2 जवान भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि बचाव अभियान निरंतर जारी है। प्रवक्ता का कहना है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि अनेक लोग लापता हैं। कुछ समय बाद हमें मृतकों के बारे में सही जानकारी मिल सकती है। उल्लेखनीय है कि जून 2007 में चिटगोंग जिले मे भूस्खलन की घटना में करीब 130 लोग मारे गए थे।