थरमॉण्ट (अमेरिका) : परमाणु बटन के आकार की तुलना को खत्म करते हुये अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह उत्तर कोरियाई नेता से बातचीत के लिये तैयार हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि कोरियाई देशों के बीच होने वाली बातचीत का कुछ नतीजा निकलेगा। पिछले साल परमाणु हथियार संपन्न उत्तर कोरिया के साथ वार्ता के हिमायती अपने मुख्य कूटनीतिज्ञ की आलोचना करने वाले ट्रंप ने कैंप डेविड में पत्रकारों को बताया कि किंग जोंग उन के साथ कुछ बातचीत या सीधा संवाद संभावनाओं से परे नहीं है।

ट्रंप ने कहा, निश्चित रूप से, मैं हमेशा बातचीत में विश्वास रखता हूं। बिल्कुल मैं वह करूंगा, इससे मुझे कोई समस्या नहीं होगी। हालांकि उन्होंने इतनी ही तेजी से यह भी कहा कि हर बातचीत एक शर्त के साथ होती है। उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि इस बातचीत के लिये क्या शर्तें होंगी। दो सालों से भी ज्यादा समय में, यह पहला मौका होगा जब मंगलवार को एक सीमावर्ती शहर में उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच कोई औपचारिक वार्ता होगी।

इस दौरान दोनों विरोधी पक्ष दक्षिण कोरिया में होने वाले शीतकालीन ओलंपिक खेलों में सहयोग के तरीकों को तलाशनें और आपसी रिश्तों को सुधारने की दिशा में बातचीत करेंगे। उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों को लेकर दोनों देशों के बीच खासा तनाव है। ट्रंप ने संवाददाताओं के साथ सवाल-जवाब सत्र के दौरान कहा, अभी वे ओलंपिक पर बात कर रहे हैं। यह एक शुरुआत है, यह एक बड़ शुरुआत है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।