अमेरिका नेे दी अपने नागरिकों को पाकिस्तान यात्रा टालने की सलाह


वाशिंगटन : अमेरिका ने अपने नागरिकों से कहा है कि वे पाकिस्तान में बढ़ते और लगातार बने हुए आतंकी खतरे के मद्देनजर वहां की अपनी सभी गैर-जरूरी यात्राओं को टाल दें। पिछले 45 दिन से भी कम समय में दूसरी बार जारी किए गए एक यात्रा परामर्श में विदेश मंत्रालय ने संघीय उड्डयन प्रशासन के एक हालिया परामर्श का हवाला दिया। उस परामर्श में व्यवसायिक विमानसेवाओं के विमान चालकों को चरमपंथी या आतंकी गतिविधि के कारण पाकिस्तान में असैन्य उड़ान भरने, खासतौर पर कम ऊंचाई पर उड़ान भरने के खतरों के बारे में चेतावनी दी गई है। इसमें विमान के आगमन और प्रस्थान के समय, जमीन पर खड़े होने के समय मंडराने वाले खतरे के बारे में चेतावनी दी गई। यात्रा परामर्श में कहा गया, ”विदेश मंत्रालय अमेरिकी नागरिकों को पाकिस्तान की सभी गैर-जरूरी यात्राओं के खिलाफ चेतावनी देता है।”

परामर्श में कहा गया कि इसके परिणामस्वरूरूप इस्लामाबाद में अमेरिकी दूतावास, कराची में महावाणिज्य दूतावास और लाहौर में महावाणिज्यदूतावास में सुरक्षा के लिहाज से कामकाज को सीमित कर दिया गया है। इस समय पेशावर में महावाणिज्यदूतावास अपनी सेवाएं उपलब्ध नहीं करवा रहा।

विदेश मंत्रालय ने कहा, ”पाकिस्तान में सांप्रदायिक हमलों समेत आतंकी हिंसा की घटनाएं जारी हैं।” मंत्रालय ने कहा कि सरकारी अधिकारियों, मानवतावादियों एवं गैर सरकारी संगठनों के कर्मचारियों, कबीलाई बुजुर्गों और कानून-प्रवर्तन के कर्मियों के खिलाफ हमले आम हैं।