अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि अमेरिका, उत्तर कोरिया के साथ बिना शर्त परमाणु निरस्त्रीकरण वार्ता शुरू करने के लिए तैयार है। ‘बीबीसी’ के अनुसार, ‘यदि आप चाहते हैं तो आइए मिलकर मौजूदा वातावरण पर बात करते हैं।’ यह बयान अमेरिका के रुख में परिवर्तन आने की ओर इशारा करता है,

जबकि पहले वह प्योंगयांग से परमाणु कार्यक्रम रद्द करने की मांग कर रहा था। इस दौरान टिलरसन ने यह भी कहा कि आर्थिक व कूटनीतिक प्रतिबंध ‘पहला बम गिरने’ तक जारी रहेंगे। दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध उत्तर कोरिया के हालिया मिसाइल परीक्षणों और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के बीच की तीखी जुबानी जंग से और भी तनावपूर्ण हो गए हैं।

अटलांटिक काउंसिल पॉलिसी फोरम में टिलरसन ने कहा कि ‘अमेरिका इतनी आसानी से सशस्त्र उत्तर कोरिया को स्वीकार नहीं कर सकता है।’ उत्तर कोरिया संग संवाद पर अमेरिका के नर्म रुख पर टिलरसन ने कहा, ‘यदि आप चाहते हैं तो मौजूदा वातावरण के बारे में मिलकर बात करते हैं, चाहे चौकोर मेज पर या फिर गोलमेज, जैसे चाहें बात हो सकती है। इसके बाद हम एक रोडमैप बनाना शुरू करेंगे,

कि हमें भविष्य में आगे कैसे काम करना है।’ टिलरसन ने यह भी कहा कि चीन ने संघर्ष की स्थिति में उत्तर कोरियाई शरणार्थियों को जगह देने के लिए आपात योजना बनाई थी। देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ