लाहौर में विस्फोट, निशाने पर थे नवाज शरीफ


Nawaz Sharif

लाहौर में एक जनसभा के लिए बुधवार को पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के जाने वाले रास्ते पर एक ट्रक के भीतर रखे एक विस्फोटक में हुए ब्लास्ट में कम से कम 35 लोग घायल हो गए। अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एक विस्फोटक आउट फॉल रोड पर ट्रक में छुपा कर रखा गया था। इस रास्ते से बीती 28 जुलाई को हुए पनामा पेपर्स मामले के बाद शरीफ पहली बार अपने गृह नगर लौटने वाले थे।

शरीफ पहले रविवार को शहूर ग्रांड ट्रंक रोड के रास्ते इस्लामाबाद से लाहौर लौटने वाले थे लेकिन बुधवार को यह कार्यक्रम स्थगित हो गया। सूत्रों ने बताया, “ऐसा लगता है कि विस्फोटक शरीफ को निशाना बनाने के लिए रखा गया था।” उन्होंने बताया कि शरीफ की रैली के रास्ते को अब बदल दिया जाएगा। पुलिस और बचाव अधिकारियों ने इलाके की घेराबंदी कर दी।

बता दें कि पाकिस्तान की सांस्कृतिक राजधानी लाहौर में हाल के महीनों में कई आतंकी हमले देखने को मिले हैं। बीती 24 जुलाई को एक तालिबानी आत्मघाती हमलावर ने यहां पंजाब के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ के ऑफिस के पास पुलिस की एक टीम पर हमला कर दिया था जिसमें पुलिसकर्मी सहित 27 लोग मारे गए थे।

वहीं अप्रैल में लाहौर के बेडैन रोड पर जनसंख्या का आंकड़ा जुटाने वाली एक टीम पर एक आत्मघाती हमलावर ने हमला किया था जिसमें 6 लोग मारे गये थे और 15 अन्य घायल हो गए थे। फरवरी में पंजाब विधानसभा के निकट एक आत्मघाती हमले में एक सीनियर पुलिस अधिकारी सहित 14 लोग मारे गये थे।