साहसिक कदम ! उ. को‌रिया अपने परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करेगा


प्योंगयांग: उत्तर कोरिया ने परमाणु ह‌थियार खत्म करने की दिशा एक और कदम उठाया है। उत्तर को‌रिया ने  शनिवार को कहा कि वह अपने परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने की कार्रवाई शुरू करेगा। परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने की प्रक्रिया 23 से 25 मई तक चलेगी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने प्योंगयांग के विदेश मंत्रालय के हवाले से बताया, “वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया (डब्ल्यूपीके) की सातवीं केंद्रीय समिति की तीसरी पूर्ण बैठक के फैसले के अनुसार परमाणु हथियार संस्थान और अन्य संबंधित संस्थाएं देश के परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करेंगी और यह प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी होगी।”

बयान के मुताबिक, “परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने की प्रक्रिया 23 से 25 मई तक चलेगी, जो पूरी तरह से मौसम की स्थितियों पर निर्भर करेगी।” देश में सत्तारूढ़ डब्ल्यूपीके का कहना है कि वह परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करेगा और मिसाइल परीक्षणों पर रोक लगाएगा।

ट्रंप ने उ कोरिया के कदम की सराहना की
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को प्योंगयांग के अपने परमाणु परीक्षणों को नष्ट करने के फैसले की सराहना करते हुए इसे बुद्धिमानी भरा कदम बताया। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर कोरिया ने 12 जून को बैठक से पहले अपने परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने की योजना बनाई है। गौरतलब है कि ट्रंप और किम जोंग के बीच 12 जून को सिगापुर में बैठक होगी।

द. कोरिया ने भी फैसले को सराहा
दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति भवन ब्लू हाउस ने रविवार को उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने के फैसले की सराहना की। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन के प्रवक्ता किम यूई-कियोम ने एक बयान में कहा कि दक्षिण कोरिया प्योंगयांग द्वारा 23 से 25 मई के बीच अपने परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने के फैसले का स्वागत करता है।

 

देश की हर छोटी-बड़ी खबर जानने के लिए पढ़े पंजाब केसरी अखबार।