लीबिया हमले के बाद रक्षा मंत्री निलंबित, मृतको की संख्या 140 के पार


त्रिपोली : प्रतिद्वंद्वी गुटों में झड़प के बाद दक्षिणी लीबिया के एक वायु सेना बेस पर हुए हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर 141 हो गयी है। हमले के बाद घटना की जांच में विलंब करने के कारण संयुक्त राष्ट्र समर्थित लीबिया के रक्षा मंत्री को बर्खास्त कर दिया गया है। पश्चिमी मिसराता शहर से एक ब्रिगेड ने ब्राक अल शती वायु सेना के अड्डे पर नियंत्रण करने की कोशिश की जिसके बाद दोनों गुटों में संघर्ष हो गया।

लीबियन नेशनल आर्मी (एलएनए) के प्रवक्ता अहमद अल मिसमारी ने कहा कि आर्मी के वायु सेना बेस पर हुए हमले में 103 लोगों की मौत हो गई। मारे गए अधिकांश लोग स्वयंभू जनरल खलीफा हफ्तार गुट के थे। शहर के महापौर इब्राहिम जामी ने इस हत्या को कत्लेआम की संज्ञा दी है।

इससे पहले कल ब्राक अल शती के प्रवक्ता ने कहा था कि हमले में 89 लोग मारे गए हैं। उन्होंने कहा था कि अस्पताल में कुछ शवों को खोजने में दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि मृतकों की वास्त्विक संख्या का पता लगाना अभी भी मुश्किल है। प्रधानमंत्री फायेज सिराज ने दोनों रक्षा मंत्री माहदी अल बरगादी और कमांडर जमाल तराइकी को मामले की जांच पूरी होने तक निलंबित कर दिया है।

उधर, पश्चिमी लीबियाई गुट के प्रवक्ता मोहम्मद अगलीवान ने कहा कि उन्होंने वायु सैनिक अड्डे को मुक्त करा लिया है और परिसर में मौजूद सभी साजो सामान को बर्बाद कर दिया गया है। विदित हो कि यह गुट अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त सरकार का घटक है। शहर के महापौर ने कहा कि कुछ लड़ाकू विमानों में भी आग दी गई।

(रायटर)