वॉशिंगटन: अमेरिका के टेक्सास प्रांत में एक बैपटिस्ट चर्च में हुई गोलीबारी में 26 लोगों की मौत हो जाने की सूचना है। इस हमले में कई लोग घायल हुए हैं। जिनमें से कई की हालत गंभीर बताई जा रही है। स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक, गोलीबारी सैन एंटोनियो के दक्षिण पूर्व में सुदरलैंड स्प्रिंग्स में फर्स्ट बैपटिस्ट चर्च में हुई है। शूटर स्थानीय समय के अनुसार सुबह करीब 11:30 बजे सदरलैंड स्प्रिंग्स स्थित बैपटिस्ट चर्च में घुसा और गोलीबारी शुरू कर दी। इस समय चर्च में कई लोग प्रार्थना कर रहे थे। एक निजी वेबसाइट की खबर के अनुसार घायलों में दो साल का एक बच्चा भी शामिल है।

 

टेक्सास के गर्वनर ग्रेग एबॉट ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि गोलीबारी की घटना में अब तक 26 लोगों की मौत हुई है। आशंका है कि ये आंकड़ा बढ़ सकता है। ग्रेग ने कहा कि टेक्सास के इतिहास में यह सबसे भयावह गोलीबारी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मरने वालों में दो साल के बच्चे से लेकर 72 साल के बुजुर्ग तक शामिल हैं। हमलावर ने सदरलैंड स्प्रिंग्स स्थित चर्च में घुसने से पहले बाहर फायरिंग की और गोलीबारी करते हुए अंदर प्रवेश किया। इस अंधाधुंध फायरिंग में कई लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। हमलावर के चर्च से बाहर निकलने पर एक स्थानीय शख्स ने उसका सामना किया और उससे बंदूक छीन ली। गन छिन जाने के बाद हमलावर मौके पर मौजूद अपनी गाड़ी से फरार होने लगा, तो वहां मौजूद लोगों ने भी उसका पीछा किया।

पुलिस के मुताबिक, हमलावर अपनी गाड़ी में मृत पाया गया। उसकी कार दुर्घटनाग्रस्त थी। हालांकि, अभी ये साफ नहीं हो सका है कि हमलावर ने सुसाइड किया या उसका सामना करने वाले नागरिक ने उसे मार गिराया। हमले के समय हमलावर काले कपड़े पहने हुए था, साथ ही उसने बुलेटप्रूफ जैकेट भी पहनी हुई थी।

एयरफोर्स से बर्खास्त हुआ था हमलावर
चर्च पर हमला करने वाले शख्स की पहचान 26 वर्षीय युवक डेविन पी केली के रूप में हुई है। जिसे कोर्ट मार्शल कर एयरफोर्स से बर्खास्त किया गया था. हमलावर के बारे में फिलहाल और कोई जानकारी सामने नहीं आ सकी है।

राष्ट्रपति ट्रंप ने की हमले की निंदा
जापान दौरे पर चल रहे अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी हमले की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “ईश्वर सदरलैंड स्प्रिंग्स, टेक्सास के लोगों का साथ दे। एफबीआई और पुलिस मौके पर हैं। मैं जापान से घटना पर नजर रखे हुए हूं।”

 

अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप ने भी ट्वीट कर लिखा, हमारे दिल टेक्सास के साथ है.

कई घायलों की हालत गंभीर
घायलों में दो साल के बच्चे सहित बुजुर्ग भी शामिल हैं. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर एंबुलेंस पहुंची और घायलों को नजदीक के अस्पतालों में ले जाना शुरू किया गया. कुछ घायलों को हेलीकॉप्टर के जरिए अस्पताल ले जाया गया, जिसमें एक छह साल का बच्चा भी शामिल था, जिसे गोलीबारी के दौरान चार गोलियां लगीं.