फिनलैंड के पूर्व राष्ट्रपति मोनो कोइविस्तो का निधन


हेलसिंकी : फिनलैंड के पहले वामपंथी राष्ट्रपति मोनो कोइविस्तो का आज निधन हो गया। वह 93 वर्ष के थे। राष्ट्रपति कार्यालय ने इस बात की जानकारी दी। श्री कोइविस्तो का जन्म 1923 में हुआ था। उनके पिता लकड़ी के जहाज बनाने वाले एक बढ़ई थे। 1982 में वह देश के नौवें राष्ट्रपति बने और 1994 तक इस पद पर रहे।

सोवियत संघ के विघटन जैसे कठिन समय में श्री कोइविस्तो ने फिनलैंड का नेतृत्व किया और 1992 में यूरोपीय संघ की सदस्यता प्राप्त करने के लिए आवेदन किया था। जिसके बाद फिनलैंड 1995 में यूरोपीय यूनियन में शामिल हुआ। श्री कोइविस्तो ने राष्ट्रपति के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान संसद की भूमिका को महत्वपूर्ण बनाने का काम किया।

कोइविस्तो द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान सोवियत संघ से भी लड़े। श्री कोइविस्तो राष्ट्रपति बनने से पहले प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री और केन्द्रीय बैंक के गवर्नर के पद पर भी रहे। कोइविस्तो लोकतंत्र और संसदीय प्रणाली के सच्चे समर्थक थे। अपने अंतिम दिनों में कोइविस्तो अलजाइमर रोग से पीड़ति थे।

(रायटर)