भारत-पाक बंटवारे के लिए हिंदुओं को ठहराया दोषी


पाकिस्‍तान इतिहास पाठ्यपुस्तक के जरिए इतिहास को तोड़ने-मरोड़ने का काम कर रहा है। इसके लिए इतिहास की किताबों को हथियार बनाते हुए यह बताया जाता है कि जब 70 साल पहले 1947 में भारत और पाकिस्तान के बंटवारे के दौरान हुए खून-खराबे के लिए हिंदू जिम्मेदार हैं। यही नहीं, पाकिस्‍तान में विभिन्‍न कक्षाओं में इसी तरह के तथ्‍य पढ़ाए जा रहे हैं।

क्‍या लिखा है पाकिस्‍तान की किताबों में..

Source

पाकिस्तान के ब्लूचिस्तान प्रांत के स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली सरकारी मान्यता प्राप्त ग्रेड पांच की इतिहास की किताबों में हिंदुओं को ‘हत्यारा’ बताया गया है, जिन्होंने ‘मुसलमानों का नरसंहार किया, उनकी संपत्ति जब्त कर ली और उन्हें भारत छोड़ने के लिए मजबूर किया।’ यही नहीं, वहां के छात्र भी यही कहते हैं, ‘उन्‍होंने हम पर नजर डाली इसलिए हमें पाकिस्‍तान बनाना पड़ा’।