भारत को ओबीओआर के लिए ज्यादा व्यावहारिक रूख अपनाना चाहिए : चीनी अखबार

0
90

बीजिंग : चीन के एक अखबार ने कहा कि भारत को ‘वन बेल्ट वन रोड’ (ओबीओआर) के लिए ”ज्यादा व्यावहारिक” रूख अपनाना चाहिए। अखबार का दावा है कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की इस परियोजना को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समर्थन मिला है। सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना द्वारा संचालित ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में कहा गया है, ”भारत की चिंता के बावजूद बड़े पैमाने पर ‘वन बेल्ट, वन रोड’ को अंतररष्ट्रीय समुदाय से व्यापक समर्थन मिला है।” लेख में कहा गया है कि भारत को इस मामले में सावधानीपूर्वक कदम उठाने चाहिए।

लेख में कहा गया है, ”अगर भारत दूसरे देशों को इस परियोजना में शामिल होने से रोकने के लिए राजी करने में सक्षम नहीं है तो इसका दूसरा व्यवहारिक उपाय यह है कि भारत इस पहल में शामिल होकर ओबीओआर को उस दिश में विकास के लिए प्रोत्साहित करने की कोशिश करे जिससे भारत का हित हो।” इसमें कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर संबंधी विवाद के कारण भारत इस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर विदेशी निवेश की किसी भी संभावना के प्रति आदतन सतर्क हो जाता है लेकिन भारत को सामान्य वाणिज्यिक निवेश और भारत की अखंडता को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों के बीच के अंतर को समझने की जरूरत है।

इस अखबार में कहा गया है कि अगर भारत ऐसे समय में ओबीओआर से खुद को अलग रखना चाहता है, जब वैश्विक समुदाय से इसे समर्थन मिल रहा है तो भारत चीन की अंतरराष्ट्रीय ख्याति को सिर्फ बढ़ते हुए ही देखेगा।

(भाषा)

LEAVE A REPLY