कुछ दिनों पहले एक इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने मुंबई हमले के पीछे पाकिस्तानी आंतकी हाफिज सईद का हाथ कबूला था, जिसके बाद से ही देश से लेकर विदेश तक सब पाक पर सवाल खड़े कर रहे हैं। उधर अमेरिका ने हाल ही में भारत के साथ अपने रिश्तों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। अमेर‌िका ने भारत की मोदी सरकार के साथ अपने रिशतों को काफी मजबूत करार दिया है तो वहीं अमेरिकी विदेश विभाग ने पाकिस्तान में मौजूद मोस्ट वांटेड आतंकी और लश्कर-ए-तैयबा का सरगना हाफिज सईद को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। हाफिज सईद पर अमेरिका का यह बयान पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफ की तरफ से हाल में मुंबई हमलों पर दिए गए बड़े बयान के बाद आया है।

अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्‍ता हीथर नाउर्ट ने बुधवार को रूटीन मीडिया ब्रीफिंग में कहा, ‘भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के साथ हमारा बहुत मजबूत रिश्‍ता है। इसके साथ ही भारतीय विदेश विभाग के साथ भी हमारा काफी अच्‍छा संपर्क है।’ हीथर से इसके बाद मीडिया ने नवाज शरीफ के 26/11 मुंबई आतंकी हमलों से जुड़ा एक सवाल पूछा गया। इस पर हीथर ने कहा आतंकी हाफिज सईद पाकिस्‍तान में खुला घूम रहा है। यह अमेरिका के लिए बहुत बड़ी चिंता का विषय है। हाफिज सईद की गिरफ्तारी पर पर अमेरिका की ओर से इनाम भी घोषित किया जा चुका है। अमेरिका ने हाफिज सईद पर 10 मिलियन डॉलर का इनाम घोषित किया हुआ है। हाफिज, मुंबई आतंकी हमलों का मास्‍टरमाइंड है।

आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तान द्वारा मिलने वाले समर्थन की वजह से ही अमेरिका ने पाक को दी जाने वाली 35 करोड़ डॉलर की वित्तीय सहायता बंद कर दी थी। पाक बार-बार से कहता रहा है कि वह अपने देश की सरजमीं का इस्तेमाल आंतक के लिए ना होने दे और उनपर कड़ी कार्रवाई करे। हालांकि पाक हमेशा से ही आतंकियों को सपोर्ट करने की बात से इंकार करता रहा है। कुछ दिनों पहले ही जांच एजेंसी ने खुलासा किया था कि हिजबुल मुजाहिदीन प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन का बेटा सैयद शाहिद यूसुफ अमेरिका से ऑनलाइन फंडिंग के जरिए पैसा इकट्ठा कर उसका आतंकी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल करता था।

 

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।