पाकिस्तान के अधिकारियों ने भारत से तस्करी कर लाये गये 7.83 करोड़ रुपये मूल्य के ‘डायरेक्ट टू होम (डीटीएच) उपकरण जब्त किये हैं। अवैध उपकरणों के खिलाफ देश भर में जारी अभियान के तहत डीटीएच जब्त किये गये हैं। पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय ने देश में भारतीय डीटीएच या ‘मैजिक बाक्स’ के आसानी से उपलब्ध होने के बारे में स्वत: संज्ञान लिया था।

उसके बाद सरकार की ओर से अदलात में बुधवार को इस ममले में एक रिपोर्ट दाखिल की गयी। डीटीएच सेटेलाइट टीवी घरों में डिजिटल टीवी कार्यक्रम पहुंचाने की अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी है। डान की रिपोर्ट के अनुसार न्यायाधीश इजाज-उल-एहसन की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ को यह भी बताया गया कि इस कार्रवाई के तहत सीमा शुल्क विभाग और संघीय जांच एजेंसी ने 30 प्राथमिकी रपटें दायर कराई हैं और 39 लोगों को गिरफ्तार किया है।

अतिरिक्त महान्यायवादी नैय्यर अब्बास रिजवी के जरिये अदालत में जमा रिपोर्ट में कहा गया है कि देशव्यापी कार्रवाई से तस्करी कर लाये गये डीटीएच उपकरण की उपलब्धता तथा उसके कारोबार को खत्म करा दिया है। पिछली सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने तत्कसरी वाले सामान के स्रोत का पता लगाने तथा उसपर अंकुश लगाने के लिये एक समिति गठित की थी। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि ‘फेडरल बोर्ड आफ रेवेन्यू’ ने भी सीमा शुल्क विभाग के जरिये कार्रवाई तेज की है जिससे 2017-18 में 24.8 अरब डालर मूल्य के डीटीएच उपकरण समेत अन्य वर्जित सामान जब्त किये गये।