कराची : पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में सात साल की बच्ची के साथ क्रूर बलात्कार और हत्या ने देश में बदलाव के लिए उत्प्रेरक का कार्य किया है । इस हाई-प्रोफाइल घटना के बाद देश भर में किशोरों के साथ छेड़छाड़ के मामलों की रिपोर्टिंग में इजाफा हुआ है। उल्लेखनीय है कि पांच जनवरी को लाहौर से करीब 50 किमी दूर कसूर शहर में बच्ची अपने घर के पास से उस समय लापता हो गयी था, जब वह ट्यूशन के लिये गयी थी।

इसके बाद नौ जनवरी को उसका शव कचरे के ढेर में पाया गया था। इस घटना के बाद से पाकिस्तान की मीडिया में इस प्रकार की घटनाओं की रिपोर्टिंग में उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई है और देश को हिला देने वाली इस घटना के बाद पुलिस की सक्रियता बढ़ी है। पाकिस्तान के मीडिया ने अब इस प्रकार की घटनाओं को अधिक गंभीरता से रिपोर्ट करना और उसे समाचारों में प्रमुखता से शामिल करना शुरू कर दिया है।

पुलिस ने बताया कि आज एक किशोर को अपने ही सात साल के सगे भाई के साथ बलात्कार करने और उसकी हत्या करने के लिये गिरफ्तार कर लिया गया। उसका शव तीन दिन बाद कराची के राष्ट्रीय कोचिंग सेंटर के पास की झाड़ियों से बरामद किया गया था। इससे पहले क्वेटा से एक व्यक्ति को अपने घर में ही अपनी छोटी बहन के साथ बलात्कार करने और उसकी हत्या का प्रयास करने के लिये गिरफ्तार किया गया था।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।