फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग की बहन रैंडी जुकरबर्ग से अलास्का एयरलाइंस की फ्लाइट में कथित छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। अलास्का एयरलाइंस ने अपनी जांच में दावा किया है कि फ्लाइट एटेंडेंट ने सहयात्री को यौन उत्पीड़न करने से नहीं रोका।

बुधवार को रैंडी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर अपने साथ हुई छेड़खानी की घटना के बारे में बताया था। रैंडी ने सिएटल स्थित एयरलाइन को पत्र लिख कर कहा कि वह फ्लाइट में उसके पास बैठे एक आदमी से बेहद असहज थीं। उस आदमी ने फर्स्ट क्लास सेक्शन में शराब परोसे जाने के वक्त मेरी और वहां बैठे अन्य यात्रियों की ओर लगातार अश्लील इशारे किए और भद्दी टिप्पणियां कीं।

रैंडी ने कहा कि उन्होंने एक विमान कर्मचारी से इसकी शिकायत भी की, लेकिन उसने इस बात को हल्के में लेते हुए कहा कि वह व्यक्ति इस रूट पर यात्रा करता रहता है। उन्होंने कहा कि एयरलाइंस के कर्मचारियों ने उन्हें इस बात को निजी स्तर पर न लेने की बात कहते हुए विमान के पिछले हिस्से में सीट देने का प्रस्ताव दिया, जिससे उन्हें काफी बुरा लगा।

उन्होंने दूसरी सीट लेने से इनकार कर दिया। रैंडी ने लिखा कि उन्हें एयरलाइन पर काफी गुस्सा आया, क्योंकि उसने जानबूझकर उस आदमी को महिलाओं के उत्पीड़न की छूट दे रखी थी।

इस मामले में रैंडी ने बाद में अपडेट देते हुए बताया कि एयरलाइंस की ओर से मामले की जांच का भरोसा दिलाया गया था। साथ ही कंपनी ने आरोपी व्यक्ति की यात्री सुविधा को अस्थाई तौर पर सस्पेंड कर दिया है। रैंडी ने इस मामले में गंभीरता दिखाने के लिए एयरलाइंस का आभार भी जताया है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।