आतंकी हाफिज ने भारत और अमेरिका के खिलाफ उगला जहर


Hafiz saeed

जमात-उद-दावा का सरगना और लश्कर ए तैयबा आतंकी संगठन का फाउंडर और मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद ने अब पाकिस्तानी सरकार पर हमला बोला है। उसने यह कहकर सनसनी फैला दी कि पाकिस्तान सरकार इस्लामिक कानून लागू करने में असफल रही है। सरकार पैगंबर मोहम्मद के मैसेज को खत्म कर रही है। हाफिज ने लोगों से अपील की है कि आम लोग इस सरकार के खिलाफ खड़े हों।

बता दे कि पाकिस्तान के खिलाफ डोनाल्ड ट्रंप के कठोर रवैये को लेकर आतंकी  हाफिज सईद ने कहा कि इजराइल एजेंडों पर अमेरिका अपना प्रभाव दिखा रहा है। उसने कहा कि अमेरिका अपनी लड़ाई अफगानिस्तान में हारने के बाद पाकिस्तान में नई जंग छेड़ना चाहता है।

आतंकी हाफिज सईद एक राजनीतिक पार्टी के रूप में अपने आतंकी संगठन को पहचान दिलाना चाहता है। जमात-उद-दावा और लश्कर-ए-तैयबा का चीफ आतंकी अब चुनाव में कूदने की तैयारी कर रहा है। हाफिज इन बयानों के जरिये अपना जनाधार बढ़ा रहा है। भारत के खिलाफ कड़वे बोल उसे पाक में फेमश बना रहे हैं। सईद ने सभा में कहा है कि जब पाकिस्तान इस्लामिक देश है तो यहां इस्लामिक कानून क्यों नहीं है ?

मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद ने इस सभा में न सिर्फ भारत के लिए बल्कि अमेरिका के नाम पर भी लोगों को डराने की कोशिश की इजराइल के एजेंडे को अमेरिका लागू करने में लगा है। अमेरिका अफगानिस्तान की जंग हार चुका है अब वह पाकिस्तान के साथ लड़ाई की तैयारी कर रहा है। आतंकी हाफिज सईद ने कहा कि आज पाकिस्तान एकजुट है लेकिन हमें और मजबूती से एक साथ आना होगा। इस सभा से हाफिज ने जिहाद की अपील की हाफिज ने ‘मिल्ली मुस्लिम लीग’ नाम से राजनीतिक पार्टी बनायी है। सईद ने कई मुस्लिम देशों से सहयोग मांगा है। हाफिज ने अमेरिका और इजराइल के खिलाफ जिहाद शुरू करने की अपील की है।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।