पेरिस में ISIS हमलावर ने अल्लाह-हू-अकबर चिल्लाते हुए कई राहगीरों को चाकू घोंपा, 2 की मौत, कई घायल


पेरिस : आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने फ्रांस की राजधानी पेरिस में राहगीरों पर चाकू से किए गए हमले की जिम्मेदारी ली है। मध्य पेरिस में एक शख्स ने शनिवार (12 मई) को पांच लोगों पर चाकू से हमला कर दिया। इस दौरान यह संदिग्ध ‘अल्ला हू अकबर’ चिल्ला रहा था। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने पेरिस प्रांत के ट्वीट के हवाले से बताया, “एक संदिग्ध ने पेरिस के दूसरे डिस्ट्रिक्ट में पांच लोगों पर चाकू से हमला किया, जिसमें दो की मौत हो गई। दो गंभीर रूप से घायल हैं, जबकि दो को हल्की चोटें आई हैं।” हालांकि एक अन्य मीडिया रिपोर्ट में मरने वालों की संख्या अभी एक ही है।

हालांकि, पुलिस की गोलीबारी में हमलावर मारा गया। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने चाकू हमलावर को आतंकवादी करार दिया था। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यह घटना मध्य पेरिस के ओपेरा जिले में हुई। आईएस की मीडिया विंग ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

आईएस की मीडिया विंग अमाक न्यूज एजेंसी ने कहा, “पेरिस में लोगों पर चाकू से हमला करने वाला शख्स आईएस का लड़ाका है।” सीएनएन के मुताबिक, आईएस ने अपने इस दावे के कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराए।मैक्रों ने कहा कि वह पेरिस हमलावर को मार गिराने के लिए पुलिस के साहस को सलाम करते हैं। फ्रांस के गृहमंत्री जेरार्ड कोलोंब ने इस जघन्य अपराध की निंदा की और पुलिस की त्वरित कार्रवाई को सराहा।

आपके बता दें कि इससे पहले मार्च महीने में ही फ्रांस के सुपरमार्केट में आतंकी हमला हुआ था जिसमें दो लोगों की मौत हुई थी। गोली चलाने वाले शख्स ने इस्लामिक स्टेट से जुड़े होने का दावा किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुपरमार्केट में गोलीबारी करने वाले आतंकी ने 2015 पेरिस हमले में शामिल रहे आतंकी को रिहा करने की मांग की थी। हालांकि, हमलावर को पुलिस ने मार गिराया।

 

देश की हर छोटी-बड़ी खबर जानने के लिए पढ़े पंजाब केसरी अखबार।