चोर ने जिस बोतल की शराब पीकर को फेंक दिया था, उसकी कीमत निकली 8 करोड़!


नई दिल्ली: डेनमार्क की राजधानी कोपनहेगन में एक चोर ने बार से वोदका की बोतल चोरी की। इसकी सूचना बार मालिक ने पुलिस को दी। जिन्हें एक फैक्ट्री में चोरी हुई खाली बोतल मिलने की सूचना मिली। बोतल को वापिस पाकर सभी ने चैन की सांस ली, क्योंकि ऐसा ने होता तो बार मालिक को करोड़ों की चपत लग जाती। ऐसा इसलिए क्योंकि जो बोतल चोर वोदका पीने के बाद बेकार समझ फेंक गया था, उसकी कीमत करीब आठ करोड़ रुपये है।

बोतल में लगे हैं, सोना-चांदी और हीरे


रिपोर्ट के अनुसार, चोरी हुई बोतल रुस्सो बाल्तिक है। रूस की कार निर्माता कंपनी रूस्सो-बाल्तिक ने कंपनी के सौ साल पूरे होने की खुशी में यह बोतल बनाई थी। बोतल के सामने का हिस्सा लेदर से बनाया गया है। इसमें रूस्सो-बाल्टिक कारों में इस्तेमाल होने वाले रेडिएटर गार्ड की एक नकल भी बनाई गई है। बोतल के ढक्कन को रशियन इंपीरियल ईगल की तरह बनाया गया है. इसे सोने, चांदी और हीरों से सजाया गया है।

लोन पर ली थी बोतल


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कैफे-33 बार के मालिक ब्रायन इंग्बर्ग ने कंपनी रूस्सो-बाल्टिक से बोतल लोन पर ली थी, ताकि वे इसे डिसप्ले में रख सकें. तीन जनवरी को उन्हें यह बोतल गायब मिली। सीसीटीवी खंगालने पर उन्होंने देखा कि मास्क पहना एक शख्स उस बोतल को चुरा कर भाग निकला। इसकी जानकारी तुरंत पुलिस को दी गई, जिन्होंने चोर की तलाश शुरू कर दी।

इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि, एक डैनिश कारखाने में रूस्सो-बाल्टिक की खाली बोतल मिली है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर तुरंत बोतल को अपने कब्जे में लिया और कार्रवाई पूरी होने पर उसे बाक मालिक को सौंप दिया।

वोदका ने बचाया


आठ करोड़ की बोतल वापिस मिलने पर बार के मालिक ब्रायन इंग्बर्ग ने कहा कि उन्हें वोदका ने बचा लिया। चोर शराब की तलाश में आया था। उसने वोदका चुराई और पीकर बोतल फेंक दी। शायद उसे इसकी कीमत नहीं पता थी, लेकिन बोतल वापिस पाना हमारे लिए राहत की बात है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।