अमेरिकी राष्ट्रपति ने पाक को सुनाई दो टूक , कहा बंद करें आतंक पर अपनी दोगली नीति


donald trump

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाक आतंकियों को मदद पर झूठ बोलने की अपनी नीति बदले क्योंकि इससे खुद पाकिस्तान को भारी नुकसान हो रहा है। अमेरिकी NSA (नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर) जनरल एचआर मैकमास्टर ने कहा कि ट्रंप चाहते हैं कि पाकिस्तान आतंकियों पर अपनी झूठ बोलने की नीति को बदले। ट्रंप चाहते हैं कि तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी संगठनों की मदद करने वाले लोगों पर कार्रवाई की जाए।

ट्रंप का इशारा साफ है कि आतंकियों की मदद करने की नीति से पाकिस्तान खुद को अलग करे। क्योंकि इससे खुद पाकिस्तान को बहुत नुकसान हो रहा है।

आपको बता कि पाकिस्तानी अखबार डॉन के अनुसार अमेरिकी सुरक्षा सलाहकार जनरल मैकमास्टर पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया और कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सख्त संदेश दिया है कि अमेरिका उन देशों को बर्ताव में बदलाव देखना चाहता है, जो तालिबान, हक्कानी नेटवर्क और आतंकवादी संगठनों के लिए सुरक्षित ठिकाने है और उन्हें मदद पहुंचाते हैं।

मैकमास्टर ने कहा कि अमेरिका चाहता है कि पाकिस्तान आतंकवाद के प्रति अपनी दोहरी नीति में बदलाव करे। आपको बता दें कि राष्ट्रपति ट्रंप का इशारा साफ है कि आतंकियों की मदद करने की नीति में पाकिस्तान बदलाव करे। अमेरिका की ये हिदायत पाकिस्तान के लिए बड़ी चेतावनी है।

वही मैकमास्टर ने इस दौरान अफगानिस्तान में जंग जीतने के मसले पर ट्रम्प की स्ट्रैटजी का भी बचाव किया, जिसके तहत इस युद्ध ग्रस्त देश में अमेरिकी सेना को असीमित अधिकार दिए गए हैं। ट्रम्प के फैसले पर मैकमास्टर ने कहा कि राष्ट्रपति ने कहा है कि वे मिलिट्री पर किसी किस्म का प्रतिबंध नहीं चाहते क्योंकि इससे जंग जीतने की उसकी क्षमता पर असर पड़ता है। इसीलिए उन्होंने मिलिट्री पर लगे सारे प्रतिबंध हटा लिए हैं और अब आप इसके नतीजे भी देख सकते हैं।