टोक्यो चुनाव में लगा आबे को झटका, ऐतिहासिक हार


टोक्यो : जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने सप्ताहांत हुए टोक्यो असेंबली के चुनाव में अपनी पार्टी को मिली ऐतिहासिक हार में आधी से ज्यादा सीटें गंवाने के बाद कहा है कि यह हार ‘भारी आलोचना’ को दिखाती है। इन चुनावों को राष्ट्रीय राजनीतिक भावनाओं का संकेतक माना जा रहा था। ये चुनाव ऐसे समय हुए हैं, जब एक के बाद एक विफलताओं और स्कैंडलों के कारण आबे की लोकप्रियता में लगातार गिरावट आई है।

Souce

यूरिको कोइके के दल ने हासिल की 49 सीटें
टीवी प्रस्तोता यूरिको कोइके द्वारा गठित नई राजनीतिक पार्टी असेंबली की 127 सीटों में से 49 सीटें हासिल कर कल के चुनाव में राजधानी की असेंबली का सबसे बड़ा दल बनने में कामयाब रही है। यूरिको ने पिछले साल भारी जीत हासिल कर तोक्यो का गवर्नर का पद जीता था।

Source

पार्टी के नतीजों को आलोचना के तौर पर गंभीरता से लेना चाहिए : आबे
अपनी पार्टी की 57 सीटों में से महज 23 सीटों पर सिमट जाने पर आबे ने सोमवार सुबह संवाददाताओं से कहा, “हमें नतीजों को हमारी पार्टी एलडीपी के खिलाफ कड़ी आलोचना के तौर पर गंभीरता से लेना चाहिए।” उन्होंने कहा, “मैं एकसाथ काम करने और उपलब्धियां हासिल कर जनता के बीच विश्वास को दोबारा हासिल करने के लिए पार्टी को पुनर्गठित करने के लिए संकल्पबद्ध हूं।” आबे वर्ष 2012 में अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के जनादेश के साथ प्रधानमंत्री चुने गए थे।