ट्रंप ने कोमी को नहीं धमकाया : व्हाइट हाउस


वाशिंगटन : व्हाइट हाउस ने उन सभी खबरों को खारिज कर दिया जिनमें दावा किया गया है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पूर्व एफबीआई निदेशक जेम्स कोमी को धमकाया था। कोमी को इस सप्ताह की शुरूआत में उनके पद से बर्खास्त किया गया था। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने शुक्रवार को दैनिक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, ”वह धमकी नहीं थी। उन्होंने केवल एक तथ्य की बात की। ट्वीट अपने आप में ही यह स्पष्ट करता है।” सीन यहां कल सुबह किए ट्रंप के ट्वीट के सवाल पर जवाब दे रहे थे।

ट्रंप ने ट्वीट किया था, ”जेम्स कोमी मीडिया में बातें लीक करते समय सोचते हैं कि हमारी बातों के ‘टेप’ उपलब्ध नहीं हैं।” बहरहाल कोमी ने ट्रंप और कोमी की बातचीत की टेप उपलब्ध होने के सवाल पर कोई जवाब नहीं दिया, जिसका राष्ट्रपति ने अपने ट्वीट में जिक्र किया था। मामले पर बार-बार एक ही जवाब दोहराते हुए स्पाइसर ने कहा, ”मैंने राट्रपति से बात की है। राष्ट्रपति के पास इस पर आगे कुछ और कहने को नहीं है।” उनसे पूछा गया था, ”जेम्स कोमी के साथ रात्रिभोज पर, क्या व्हाइट हाउस में किसी के पास ऐसी कोई ऑडियो रिकार्डिंग है कि 27 जनवरी को रात्रिभोज के दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति और पूर्व एफबीआई निदेशक के बीच क्या बातचीत हुई?” स्पाइसर ने कहा, ”मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है।” इस बीच भारतीय अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति के नेतृत्व में डेमोक्रेटिक सांसदों ने व्हाइट हाउस से ऐसी किसी भी टेप को सामने लाने की अपील की है।

(भाषा)