UN में एक बार फिर भारत ने पाकिस्तान को किया बेनकाब


संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र आम सभा में भारत ने पाकिस्तान के झूठ का करारा जवाब दिया है। ‘राइट टू रिप्लाई’ के तहत जवाब देते हुए भारत की प्रतिनिधि पाउलोमी त्रिपाठी ने लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की तस्वीर दिखाई, जिनकी इस साल मई में जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान समर्थित आतंकियों ने बेरहमी से हत्या कर दी थी। भारत ने कहा कि पाकिस्तान ने एक झूठी कहानी गढ़ने के लिए एक फर्जी तस्वीर का इस्तेमाल किया और वैश्विक आतंकवाद के गढ़ के रूप में अपनी भूमिका से दुनिया का ध्यान भटकाने की कोशिश की। पाकिस्तान ने फर्जी फोटो दिखाकर संयुक्त राष्ट्र महासभा को धोखा दिया, लेकिन जो तस्वीर हम दिखा रहे हैं वह पाकिस्तान की दुष्ट हरकतों की असली तस्वीर है। पाकिस्तान समर्थित आतंकियों ने उमर फैयाज की नृशंस हत्या कर दी थी। यही पाकिस्तान का असली चेहरा है।

 

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही पाकिस्तान की स्थायी प्रतिनिधि ने गाजा की एक लड़की की तस्वीर, कश्मीर में ‘पैलेट गन’ का शिकार बनी पीड़िता के तौर पर पेश की थी। इस्राइली हमले की कथित शिकार 17 वर्षीय राव्या अबु जोमा की तस्वीर वास्तव में पुरस्कार विजेता अमेरिकी फोटो पत्रकार हीदी लेवाइन ने जुलाई 2014 में ली थी। यह तस्वीर कई समाचार वेबसाइटों पर उपलब्ध है। साफ तौर पर इस तस्वीर का कश्मीर से कोई लेना-देना नहीं था।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के राजनयिक पी. त्रिपाठी ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत के बारे में झूठ फैलाने के लिए इस सभा को गुमराह किया है।