शांति के लिए अमेरिकी सैनिकों को अफगानिस्तान से जाना होगा: तालिबान


काबुल : तालिबान ने अफगानिस्तान में और पश्चिमी सैनिकों को भेजे जाने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा है कि शांति के लिए अमेरिका को इस मुल्क से जाना होगा। तालिबान नेता मुल्ला हैबातुल्लाह अखुंदजादा ने ईद-उल-फितर के मद्देनजर एक बयान में कहा कि इस मुल्क में शांति के लिए मुख्य बाधा पश्चिमी देशों की दखलंदाजी है। उन्होंने कहा कि अमेरिका को इस मुल्क को छोडऩा होगा।

बयान में हालांकि अफगानिस्तान में अमेरिकी नीति को लेकर वाशिंगटन में हाल में हुई बहस का जिक्र नहीं किया गया है। तालिबानी नेता ने देश की पूर्ण आजादी का आहवान करते हुए कहा कि यहां इस्लामी व्यवस्था का कायम किया जाना जरूरी है। उन्होंने अफगानिस्तान में अमेरिकी सैनिकों की संख्या तीन हजार से पांच हजार तक बढ़ाये जाने की योजना के खिलाफ चेतावनी दी। उन्होंने हालांकि विश्व के साथ सार्थक और मधुर संबंध बनाने का वादा किया।